देश बड़ी खबर

संयुक्त किसान मोर्चा ने तय किये कमेटी के 5 नाम, आंदोलन जारी रखने का एलान

नई दिल्ली। संयुक्त किसान मोर्चे की शनिवार को हुई अहम बैठक में सरकार से बात करने के लिए एक कमेटी बनाई गई हैं। इस कमेटी में 5 सदस्य होंगे। यह कमेटी सरकार के साथ बातचीत के लिए अधिकृत होगी। कमेटी में बलबीर राजेवाल, गुरनाम चढूनी, शिव कुमार कक्का, युद्धवीर सिंह, अशोक धवले के नाम शामिल हैं।

गौरतलब है कि सरकार ने संयुक्त किसान मोर्चे से बातचीत के लिए 5 सदस्यों के नाम मांगे थे। यह कमेटी सरकार के साथ एमएसपी, किसानों से केस वापसी जैसे मुद्दों पर बातचीत करेगी।

जारी रहेगा किसान आंदोलन:

संयुक्त किसान मोर्चे की बैठक के बाद भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने एलान किया कि जब तक एमएसपी और किसानों पर दर्ज केस वापस नहीं हो जाते, शहीद किसानों को मुआवजा नहीं मिला, तब तक आंदोलन जारी रहेगा। किसान आंदोलन की समाप्ति के सवाल पर राकेश टिकैत ने कहा कि हम कहीं नहीं जा रहे। किसान मोर्चा की अगली बैठक 7 दिसंबर को होगी।

किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा कि यह संयुक्त किसान मोर्चा की हेड कमेटी होगी। जो सभी महत्वपूर्ण फैसले लेगी। अभी तक सरकार ने आधिकारिक तौर पर बातचीत के लिए नहीं बुलाया। अगर बातचीत के लिए बुलाया जाता है, तो यही 5 लोग बातचीत के लिए जाएंगे।

ये भी पढ़ें:  हरिद्वार धर्म संसद में नफरती भाषण: कल होगी सुप्रीमकोर्ट में सुनवाई

मांगे पूरी होने तक आंदोलन वापस नहीं होगा:

संयुक्त किसान मोर्चा के नेता योगेंद्र यादव ने कहा कि बनाई गई पांच सदस्यों की कमेटी का मकसद सरकार से सिर्फ अपनी मांगों को लेकर के बातचीत करना है न कि केंद्र सरकार की तरफ से जो 5 सदस्यों की कमेटी एमएसपी को बनाने के लिए दी गई थी, उनसे इसका कोई लेना देना नहीं है, जब तक किसानों पर दर्ज केस वापस नहीं होंगे उनको मुआवजा नहीं मिलेगा तब तक आंदोलन वापस नहीं होगा।

शहीद किसानो के नाम की सूची सरकार को भेजी:

संयुक्त किसान मोर्चे की बैठक से पहले किसान नेता दर्शन पाल सिंह ने मीडिया से बातचीत में कहा कि 702 किसानों की मृत्यु का आंकड़ा हमने सरकार को भेज दिया है। 5 नाम जो मांगे गए थे उसपर अभी फैसला नहीं हुआ है जो कमेटी बनी है उसके क्या अधिकार है, वो कैसे काम करेगी हमें इसका पता जबतक नहीं चल जाता तबतक हम निर्णय नहीं ले सकते।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें