पड़ताल बड़ी खबर

पालघर लिंचिंग के आरोपी निकले बीजेपी के बूथ कार्यकर्ता, ये रहे सबूत

मुंबई ब्यूरो। महाराष्ट्र के पालघर के एक गाँव में दो साधुओं और उनके ड्राइवर की पीट पीट कर हत्या किये जाने के मामले अब नया खुलासा हुआ है। इस घटना में गिरफ्तार किये गए 101 आरोपियों में दो लोग बीजेपी के बूथ कार्यकर्ता भी हैं।

पालघर घटना के बाद महाराष्ट्र सरकार पर निशाना साध रही बीजेपी इस खुलासे के बाद खुद कटघरे में खड़ी हो गई है। पालघर लिंचिंग को सांप्रदायिक रंग देने की कोशिश कर रहे लोगों के समक्ष सच्चाई रखने की कवायद के तहत महाराष्ट्र सरकार ने मॉब लिंचिंग की घटना में गिरफ्तार किये गए सभी 101 लोगों के नाम की लिस्ट जारी की थी।

इस लिस्ट में बीजेपी के दो बूथ कार्यकर्ताओं के नाम भी मिले हैं। गिरफ्तार किये गए लोगों में ईश्वर बंदु नुकले और भाऊ डाकल सांठे बीजेपी के बूथ नंबर 237 के कार्यकर्ता हैं।

इसमें ईश्वर बंदु नुकले गढ़चिंचले का रहने वाला है, जबकि भाऊ डाकल सांठे, हैंडपाडा गढ़चिंचले का रहने वाला है। गढ़चिंचले ही वह गाँव है जहाँ मॉबलिंचिंग की घटना हुई थी।

मॉब लिंचिंग में दो साधुओं और उनके ड्राइवर की मौत को लेकर बीजेपी तथा देश के मीडिया ने महाराष्ट्र सरकार को घेरने की कोशिश की थी। इस घटना को सांप्रदायिक रंग देने की कोशिश में रिपब्लिक टीवी ने सभी हदें पार करते हुए कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी को भी इस मामले में घसीटा।

ये भी पढ़ें:  अगले महीने नई पार्टी बनाएंगे कैप्टेन अमरिंदर सिंह

रिपब्लिक टीवी के एंकर अर्नब गोस्वामी ने पत्र्कारिता को ताक पर रखते हुए लाइव डिबेट में सोनिया गांधी को लेकर अमर्यादित शब्दो का इस्तेमाल किया। जिसके बाद कांग्रेस नेताओं ने देशभर में अर्नब गोस्वामी और रिपब्लिक टीवी के खिलाफ मामले दर्ज कराये हैं।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें