बड़ी खबर राजनीति

सिंधिया के ट्विटर बायो से बीजेपी गायब, अटकलें शुरू

नई दिल्ली। कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में गए ज्योतिरादित्य सिंधिया को लेकर एक बार फिर नई अटकलें शुरू हो गई हैं। इस बार ये अटकलें उनके ट्विटर प्रोफ़ाइल को लेकर लगाई जा रही हैं।

ज्योतिरादित्य सिंधिया के ट्विटर बायोडाटा से भारतीय जनता पार्टी का नाम गायब है। इसे लेकर कयासों का दौर जारी है। वहीँ ट्विटर पर भी सिंधिया को लेकर दो ट्रेंड हो रहे हैं।

दरअसल यह मामला कल प्रकाश में आया। जब ज्योतिरादित्य सिंधिया के ट्विटर प्रोफ़ाइल से अचानक ही ‘भाजपा’ हटा दिया है। इसके स्थान पर उन्होंने जनता का सेवक और क्रिकेट प्रेमी लिखा है।

हालांकि सिंधिया समर्थको का दावा है कि ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अपने प्रोफाइल में भाजपा जोड़ा ही नहीं था। अभी इस मामले में बीजेपी या सिंधिया की तरफ से कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है। इसलिए अटकलें और तेज हो गई हैं।

वहीँ अभी हाल ही में मीडिया में आई खबरों के मुताबिक सभी सिंधिया समर्थको को उपचुनाव में टिकिट न दिए जाने के कुछ बीजेपी नेताओं के बयान आने के बाद सिंधिया और बीजेपी के बीच एक दरार अवश्य पैदा हुई है।

सिंधिया समर्थक पूर्व विधायकों ने इसी शर्त पर कांग्रेस छोड़ी थी कि उन्हें उपचुनाव में बीजेपी का टिकिट मिलेगा। वहीं दूसरी तरफ शिवराज मंत्रिमंडल का विस्तार लगातार टल रहा है, जिसके चलते मंत्रिमंडल में जगह मिलने की उम्मीद लगाए बैठे सिंधिया समर्थक सवाल उठा रहे हैं।

फिलहाल देखना है कि बीजेपी से मोहन भंग होने को लेकर ज्योतिरादित्य सिंधिया को लेकर शुरू हुई नई अटकलें कितनी खरी साबित होती हैं।

सिंधिया की आई प्रतिक्रिया:

सिंधिया को लेकर सोशल मीडिया से शुरू हुई अटकलें न्यूज़ चैनलों की स्क्रीन तक पहुँचने के बाद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अपने फेसबुक पेज पर किये गए पोस्ट में कहा कि ‘कांग्रेस मेरी चिंता ना करे, ये राजनीति का नही जरूरतमंदों की मदद का समय है। मैं किसी राजनीतिक लाभ, पद या महत्त्वकांक्षा के लिए भाजपा में सम्मलित नही हुआ हूँ। मेरा और सिंधिया परिवार का लक्ष्य सदैव जनसेवा का रहा है,और उसी दिशा में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के सशक्त नेतृत्व में पूरे राष्ट्र के साथ मैं भी चल रहा हूँ।’

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें