बड़ी खबर राजनीति

पंजाब कांग्रेस में नहीं थमी कलह, नवजोत सिंह सिद्धू का प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा

चंडीगढ़। पंजाब में पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टेन अमरिंदर सिंह और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू के बीच पिछले काफी समय से चल रही तकरार को समाप्त कराने के लिए भले ही कांग्रेस हाईकमान ने कैप्टेन अमरिंदर सिंह की जगह पंजाब में नया मुख्यमंत्री बना दिया हो लेकिन पंजाब कांग्रेस में चल रही कलह का अभी अंत नहीं हुआ है।

इस बीच नवजोत सिंह सिद्धू ने प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया है। सिद्धू ने पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी को पत्र लिखकर अपने पद से इस्तीफा देने की बात कही है।

सिद्धू ने पत्र में लिखा है कि ‘‘किसी भी व्यक्ति के व्यक्तित्व में गिरावट समझौते से शुरू होती है, मैं पंजाब के भविष्य और पंजाब के कल्याण के एजेंडे को लेकर कोई समझौता नहीं कर सकता हूं। इसलिए, मैं पंजाब प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष पद से इस्तीफा देता हूं। कांग्रेस की सेवा करना जारी रखूंगा।’’

सिद्धू के प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा दिए जाने से पंजाब में विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस एक बार फिर मुश्किलों के घेरे में फंसती दिख रही है। कांग्रेस ने ही सिद्धू को प्रदेश अध्यक्ष पद की जिम्मेदारी दी थी।

ये भी पढ़ें:  यूपी सहित कई राज्यों में दिखा किसानो के रेल रोको आंदोलन का असर

नवजोत सिंह सिद्धू के प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा दिए जाने के बाद उनके समर्थन में प्रदेश सरकार में केबिनेट मंत्री रज़िया सुल्तान ने भी अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। रजिया सुल्ताना को जलापूर्ति एवं स्वच्छता और महिला एवं बाल विकास मंत्रालय मिला था। रजिया सुल्ताना नवजोत सिंह सिद्धू के सलाहकार मोहम्मद मुस्तफा की पत्नी हैं।

मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी को भेजे अपने इस्तीफे में रजिया सुल्ताना ने कहा कि वो नवजोत सिंह सिद्धू के समर्थन में मंत्री पद से इस्तीफा दे रही हैं। वे पार्टी की कार्यकर्ता के रूप में काम करना जारी रखेंगी।

बीजेपी के संपर्क में हैं कैप्टेन:

वहीँ दूसरी तरफ यह खबर भी आ रही है कि पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टेन अमरिंदर सिंह अपने समर्थक कुछ विधायकों के साथ बीजेपी ज्वाइन करने वाले हैं। आज मीडिया में पूरे दिन कैप्टेन अमरिंदर सिंह और गृहमंत्री अमित शाह के बीच बैठक होने की संभावनाओं को लेकर खबर चली। हालांकि यह खबर गलत साबित हुई। मंगलवार को कैप्टेन अमरिंदर सिंह गृह मंत्री अमित शाह से मिलने नहीं पहुंचे।

कल सारा मामला सुलझ जायेगा: कांग्रेस विधायक

वहीँ नवजोत सिंह सिद्धू द्वारा प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा दिए जाने को लेकर कांग्रेस के दो विधायकों ने दावा किया है कि कल सारा मामला सुलझ जाएगा। कांग्रेस विधायक और पंजाब सरकार में मंत्री परगट सिंह और अमरिंदर सिंह राजा वारिंग ने नवजोत सिंह सिद्धू से मुलाकात के बाद कहा कि एक-दो छोटे-छोटे मुद्दे हैं, आपस में गलतफ़हमी की वजह से विश्वास टूटा। कोई बड़ी बात नहीं है, कल सारा मसला सुलझ जाएगा।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें