बड़ी खबर राजनीति

महाराष्ट्र की तरह गोवा में बीजेपी के खिलाफ महागठबंधन के लिए शरद पवार की मदद लेगी शिवसेना

नई दिल्ली। महाराष्ट्र के बाद अब शिवसेना की नज़र गोवा पर टिकी है। गोवा में 2022 के विधानसभा चुनाव से पहले शिवसेना चाहती है कि राज्य में गैर बीजेपी दलों का एक गठजोड़ बनाकर बीजेपी को गोवा की सत्ता से बेदखल करे।

शिवसेना के वरिष्ठ नेता और मंत्री दीपक केसरकर ने रविवार को पीटीआई से बात करते हुए कहा कि गोवा में महाराष्ट्र की तर्ज पट बीजेपी विरोधी गठबंधन बनाने के लिए एनसीपी सुप्रीमो शरद पवार से विपक्षी दलों की मदद करने के लिए कहा जाएगा।

महाराष्ट्र में शिवसेना-एनसीपी-कांग्रेस के गठजोड़ वाले महाविकास अघाड़ी सरकार में मंत्री केसरकर ने कहा कि भाजपा को रोकने के लिए गोवा में धर्मनिरपेक्ष वोटों को विभाजित होने से बचाने” के लिए क्षेत्रीय दलों और समान विचारधारा वाले संगठनों को एक साथ लाने की जरूरत है।

केसरकर ने कहा कि शिवसेना की उत्तरी गोवा में जनाधार है, जो महाराष्ट्र में सिंधुदुर्ग के करीब है। उन्होंने कहा कि 2022 में गोवा में होने वाले विधानसभा चुनावों में शिवसेना को इस इलाके से “दो से तीन सीटें” जीतने की उम्मीद है।

ये भी पढ़ें:  सरकार की किसानो से हुई बातचीत, बैठक के बाद किसानो ने कहा "आंदोलन जारी रहेगा"

गौरतलब है कि महाराष्ट्र में मुख्यमंत्री पद को लेकर बीजेपी और शिवसेना के बीच पैदा हुए विवाद के बाद राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) सुप्रीमो शरद पवार ने अपने प्रयासों ने एनसीपी, कांग्रेस और शिवसेना को एक प्लेटफॉर्म पर ला खड़ा किया था। तीन दलों के बने इस गठबंधन को महाविकास अघाड़ी नाम दिया गया। गैर बीजेपी दलों के बने इस गठजोड़े ने बीजेपी को सत्ता से बेदखल कर दिया है।

शरद पवार को राजनीति का मजा हुआ खिलाडी कहा जाता है और कभी भी पासा पलटने ही हैसियत रखते हैं। शरद पवार कई अहम मौको पर अपने राजनीतिक दावों से पूरी राजनीतिक बाजी पलट चुके हैं।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें