बड़ी खबर बिहार-झारखंड राज्य

कांग्रेस ने शत्रुघ्न सिन्हा के बेटे को बांकीपुर सीट से बनाया उम्मीदवार

पटना ब्यूरो। बिहार में 70 सीटों पर चुनाव लड़ रही कांग्रेस ने कई दिग्गजों को चुनाव मैदान में उतारा है। इसमें फिल्म अभिनेता और पटना साहिब से पूर्व सांसद शत्रुघ्न सिन्हा के बेटे लव सिन्हा का नाम भी शामिल हैं।

कांग्रेस ने बिहार की बांकीपुर सीट से शत्रुघ्न सिन्हा के बेटे लव सिन्हा को उम्मीदवार बनाया है। उनका मुकाबला प्लुरल्स पार्टी की पुष्पम प्रिया और बीजेपी के तीन बार से विधायक नितिन नवीन से होगा।

बिहार की बांकीपुर विधानसभा सीट को कायस्थ बाहुल्य सीट कहा जाता है। इस सीट पर कायस्थ मतदाताओं की भूमिका निर्णायक मानी जाती है। शत्रुघ्न सिन्हा स्वयं भी कायस्थ समुदाय से आते हैं। वहीँ इस सीट पर तीन बार के बीजेपी विधायक नवीन कुमार स्वयं भी कायस्थ समुदाय से हैं। इस सीट पर कायस्थ मतदाताओं के अलावा दलित, यादव और मुस्लिम मतदाताओं की अच्छी तादाद बताई जाती है।

अपने टिकिट के एलान के बाद लव सिन्हा ने ट्वीट कर पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का धन्यवाद किया है। लव सिन्हा ने ट्वीट कर कहा, “मैं राहुल गांधी का दिल से धन्यवाद जिन्होंने मुझे बिहार चुनाव के काबिल समझा बहुत जल्द बिहार से पर्चा भर कांग्रेस के नेतृत्व में चुनाव लड़ूंगा।”

झारखंड के दिग्गज भी बिहार में उतारे:

वहीँ कांग्रेस ने झारखंड के दो दिग्गजों को भी बिहार के चुनावी मैदान में उतारकर सबको सकते में डाल दिया है। पार्टी ने जहां सुबोध कांत सहाय को बिहार चुनाव में इलेक्‍शन मैनेजेंट एंड को आर्डिनेशन कमेटी का सदस्‍य बनाया है। वहीँ झारखण्ड के पूर्व अध्यक्ष डा अजय कुमार को पार्टी ने बिहार चुनाव में वार रूम का इंचार्ज बनाया है और राज्य में चुनाव विश्‍लेषण, मीटिंग जैसी चुनावी जिम्‍मेदारी दी है।

गौरतलब है कि लोकसभा चुनाव में पार्टी के ख़राब प्रदर्शन के लिए आलोचना का शिकार हुए झारखंड के पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष डा अजय कुमार पार्टी से इस्तीफा देकर आम आदमी पार्टी में शामिल हो गए थे, लेकिन वे वहां बहुत दिनों तक नहीं टिक सके और उन्होंने हाल ही में कांग्रेस में अपनी वापसी कर ली। अब पार्टी ने एक बार फिर डा अजय कुमार को ज़िम्मेदारी देकर पार्टी में सक्रिय कर दिया है।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें