दुनिया बड़ी खबर

पाकिस्तान सहित इन चार देशो की महिलाओं से शादी नहीं कर सकेंगे सऊदी अरब के लोग

नई दिल्ली (इंटरनेशनल डेस्क)। सऊदी अरब ने अपने यहां के नागरिको पर चार देशो की महिलाओं से शादी करने पर पाबंदी लगा दी है। इन चार देशो में पाकिस्तान का नाम भी शामिल है। सऊदी अरब ने जिन चार देशो की महिलाओं से शादी पर पाबंदी लगाई है उसमे पाकिस्तान के अलावा चाड, बांग्लादेश और म्यांमार शामिल है।

पाकिस्तान के प्रमुख समाचार पत्र डॉन की एक खबर के मुताबिक, सऊदी अरब में इन चार देशो की महिलाओं की तादाद लगातार बढ़ रही है। खबर के मुताबिक, इस समय सऊदी अरब में इन चार देशो की महिलाओं की तादाद पांच लाख से अधिक हो चुकी है।

खबर के मुताबिक सऊदी सरकार द्वारा बनाये गए नए नियमो के मुताबिक, इन चार देशो में से किसी देश की महिला से शादी करने के लिए कुछ औपचारिकताएं पूरी करनी होंगी। इन औपचारिकताओं में सख्त नियमो का पालन भी शामिल है।

खबर के मुताबिक सऊदी प्रशासन ने यह फैसला इसलिए लिए है क्यों कि सऊदी अरब में स्थानीय महिलाओं की अपेक्षा दूसरे देशो से शादी करने का चलन लगातार बढ़ रहा था। इनमे खासकर पाकिस्तान, बांग्लादेश और म्यांमार की महिलाओ से शादी करने का क्रेज लगातार बढ़ रहा है।

ये भी पढ़ें:  राकेश टिकैत ने मोदी सरकार पर लगाया हमले की साजिश रचने का आरोप

खबर के मुताबिक, नए नियमो में दूसरे देश की महिला से शादी करने के लिए उस व्यक्ति को आवेदन करना होगा। विवाह की इच्छा रखने वाले व्यक्ति की
की उम्र 25 वर्ष से अधिक होनी चाहिए। यदि किसी व्यक्ति की पत्नी की मौत हो चुकी है तो वह कम से कम 6 महीने तक शादी के लिए आवदेन नहीं कर सकेगा।

रिपोर्ट के मुताबिक, यदि आवेदक पहले से शादीशुदा है तो उसे दूसरी शादी करने के लिए वजह बतानी होगी तथा यदि उसकी पत्नी बीमार, या बिकलांग है तो उसे मान्यता प्राप्त डॉक्टर या अस्पताल का प्रमाणपत्र देना होगा।

पाकिस्तान सहित चार देशो की किसी महिला से शादी के लिए आवदेन पत्र दिए जाने के बाद सऊदी प्रशासन की मंजूरी मिलने के बाद ही विवाह किया जा सकता है।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें