मध्यप्रदेश राज्य

27 अक्टूबर से सिंधिया के गढ़ में गरजेंगे पायलट

भोपाल ब्यूरो। मध्य प्रदेश में हो रहे विधानसभा की 28 सीटों के उपचुनाव के प्रचार में राजस्थान के पूर्व उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट की एंट्री 27 अक्टूबर से होगी।

पार्टी सूत्रों के मुताबिक चुनाव में अपनी ज़िम्मेदारी संभालने के लिए सचिन पायलट 27 अक्टूबर को ग्वालियर पहुंच रहे हैं। वे सिंधिया के गढ़ वाली सीटों पर चुनाव प्रचार की कमान संभालेंगे।

सूत्रों ने कहा कि सचिन पायलट 27 और 28 अक्टूबर को शिवपुरी जिले के नरवर और सतनवाड़ा में, मुरैना जिले के सुमावली व भिंड और ग्वालियर जिले में कांग्रेस के कार्यकर्ताओं के साथ बैठक करेंगे।

इतना ही नहीं सचिन पायलट मुरैना विधानसभा सीट के नूराबाद क्षेत्र में, दिमनी विधानसभा क्षेत्र के मनबसाई में, गोरमी (मेंहगांव सीट) और गोहद में पार्टी कार्यकर्ताओं की बैठकों में शामिल होंगे। इसके अलावा सचिन पायलट 28 अक्टूबर को ग्वालियर में एक प्रेस कांफ्रेंस को भी संबोधित करेंगे।

सूत्रों ने कहा कि सचिन पायलट राजस्थान की सीमा से सटे विधानसभा क्षेत्रो में पार्टी के लिए वोट मांगेंगे। वे मध्य प्रदेश कांग्रेस के कई नेताओं के साथ भी मंच साझा करेंगे। पायलट जनता को बताएँगे कि ज्योतिरादित्य सिंधिया किस तरह बीजेपी का मोहरा बने और बीजेपी ने कमलनाथ सरकार गिराने के लिए किस तरह सिंधिया पर दांव खेला है।

ये भी पढ़ें:  नव गठित बिहार विधानसभा का पहला सत्र आज से हो रहा शुरू

सूत्रों की माने तो सिंधिया का गढ़ कहे जाने वाले कुछ इलाको के लिए रणनीति बनाने का काम भी सचिन पायलट को सौंपा गया है। वे इन इलाको में बूथ से लेकर जिला, शहर और ब्लॉक स्तर के कांग्रेस कार्यकर्ताओं को चुनाव के लिए आवश्यक निर्देश देंगे। इतना ही नहीं पायलट अपनी ज़िम्मेदारी वाली सीटों पर चुनाव प्रचार की मॉनिटरिंग का काम भी करेंगे।

बता दें कि मध्य प्रदेश में विधानसभा की 28 सीटों के लिए 03 नवंबर को मतदान होगा। वहीँ मतगणना 10 नवंबर को होगी। कांग्रेस लगातार दावा कर रही है कि उपचुनाव के बाद उसकी सत्ता में फिर से वापसी हो रही है। वहीँ जानकारों की माने तो कुछ सीटों को छोड़कर अधिकांश सीटों पर कांग्रेस ने बीजेपी पर शिंकजा कस रखा है।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें