मध्यप्रदेश राज्य

कमलनाथ का ट्रंप कार्ड: सिंधिया के गढ़ में पायलट करेंगे प्रचार

भोपाल ब्यूरो। मध्य प्रदेश में होने वाले 28 सीटों के उपचुनाव में 16 सीटें ज्योतिरादित्य सिंधिया के ग्वालियर चंबल इलाके की हैं। इस इलाके की 16 सीटें कांग्रेस और बीजेपी के लिए नाक का सवाल बन गई हैं। यही कारण है कि इस इलाके में कांग्रेस के चुनावी अभियान को स्वयं प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने अपने हाथ में ले रखा है।

उपचुनाव के लिए कमलनाथ ग्वालियर में कैम्प करने की बात भी कह चुके हैं और उपचुनाव तक प्रदेश कांग्रेस की सभी गतिविधियां ग्वालियर से ही संचालित।

पार्टी सूत्रों की माने तो उपचुनाव के लिए पार्टी द्वारा तैयार की गई स्टार प्रचारकों की सूची में राजस्थान के पूर्व उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट को ग्वालियर-चंबल इलाके के स्टार प्रचारकों की लिस्ट में शामिल किया गया है।

सूत्रों ने कहा कि सिंधिया के गढ़ में सचिन पायलट प्रचार की कमान संभालेंगे। सचिन पायलट को ज्योतिरादित्य सिंधिया के प्रभाव वाली सीटों पर प्रचार की ज़िम्मेदारी दी जायेगी। सूत्रों ने कहा कि ग्वालियर-चंबल इलाके की 16 सीटों में से कई सीटें राजस्थान की सीमा से सटी हैं। इन सीटों पर गुर्जर समुदाय के मतदाताओं की अच्छी तादाद है।

सूत्रों ने कहा कि कमलनाथ ने अपने व्यक्तिगत संबंधो के आधार कांग्रेस के कई अन्य दिग्गजों को भी उपचुनाव के दौरान पार्टी उम्मीदवारों के प्रचार के लिए बात की है। इनमे शत्रुघ्न सिन्हा, नवजोत सिंह सिद्धू, उर्मिला मातोंडकर शामिल हैं। सूत्रों ने यह भी कहा कि जल्द ही कई बड़े चेहरे मध्य प्रदेश में आते जाते दिखेंगे।

गौरतलब है कि सचिन पायलट और राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बीच पैदा हुए विवाद के बाद काफी दिनों तक राजस्थान में उठापटक चलती रही लेकिन सचिन पायलट अपने समर्थक विधायकों के साथ कांग्रेस में बने रहे और राजस्थान में कांग्रेस की सरकार को गिराने की बीजेपी की तमाम कोशिशें फेल हो गयी थीं।

मध्य प्रदेश में ज्योतिरादित्य सिंधिया समर्थक 22 विधायकों के इस्तीफे और बाद में 03 विधायकों के इस्तीफे तथा 03 विधायकों के निधन के कारण 28 विधानसभा उपचुनाव होना है। माना जा रहा है कि बिहार के विधानसभा चुनाव के साथ ही मध्य प्रदेश में विधानसभा उपचुनाव कराये जाएंगे।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें