बड़ी खबर राजनीति

23 अक्टूबर को बिहार में दो रैलियां संबोधित करेंगे राहुल गांधी

नई दिल्ली। बिहार में विधानसभा चुनाव के लिए आज महागठबंधन ने अपना चुनाव घोषणा पत्र जारी कर दिया है। इस घोषणा पत्र में प्रमुखता से किसानो की क़र्ज़ माफ़ी और केबिनेट की पहली बैठक में दस नौकरियों पर भर्ती कराये जाने का अहम वादा किया गया है।

राज्य में धीमे धीमे चुनाव प्रचार जोर पकड़ रहा है और राजनैतिक दलों के बीच आरोप प्रत्यारोप का दौर भी शुरू हो चुका है। कांग्रेस 23 अक्टूबर को बिहार में दो चुनावी रैलियों का आयोजन करने जा रही है। इनमे पहली रैली हिसुआ में और दूसरी कहलगांव में आयोजित की जायेगी। पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी इन रैलियों को संबोधित करेंगे।

क्षेत्रीय चेहरों को आगे रखकर चल रही कांग्रेस:

वहीँ पार्टी सूत्रों की माने तो बिहार में हो रहे विधानसभा चुनाव के प्रचार में कांग्रेस की प्राथमिकता क्षेत्रीय चेहरों को आगे रखने की है। पार्टी इस तरह का एक्सपेरिमेंट मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ के विधानसभा चुनाव में कर चुकी है। बिहार में भी पार्टी की प्राथमिकता इसी एक्सपेरिमेंट को दोहराने की है।

पार्टी ने स्थानीय चेहरों को प्रचार की बड़ी ज़िम्मेदारी सौंपी है। वहीँ राष्ट्रीय स्तर के नेता चुनिंदा स्थानों पर ही रैलियों को संबोधित करेंगे। पार्टी सूत्रों की माने तो चुनाव प्रचार के अंतिम दिन पार्टी प्रचार में पूरी ताकत झोंकेगी। इस दिन हर विधानसभा क्षेत्र में कोई न कोई कांग्रेस का कद्दावर नेता मौजूद रहेगा।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें