देश बड़ी खबर

सीएए: औरंगाबाद में प्रदर्शनकारियों के लिए खाना बनाकर ला रहीं हिन्दू महिलाएं

मुंबई। महाराष्ट्र के औरंगाबाद में नागरिकता कानून के खिलाफ प्रदर्शन कर रही मुस्लिम महिलाओं के लिए हिन्दू महिलाएं अपने घर से खाना बना कर ला रही हैं और प्रदर्शन स्थल पर ही खाना खिला रही हैं।

गौरतलब है कि नागरिकता कानून के खिलाफ महाराष्ट्र के औरंगाबाद में भी विरोध प्रदर्शन चल रहा है। इस विरोध प्रदर्शन में बड़ी तादाद में मुस्लिम महिलाएं शामिल हैं।

महिलाओं को खाना खाने घर न जाना पड़े और उन्हें भोजन के आभाव में भूखा न रहना पड़े, इसलिए हिन्दू समुदाय की कुछ महिलाओं ने आपसी भाईचारे को ज़िंदा रखते हुए प्रदर्शनकारी मुस्लिम महिलाओं के लिए खाने के इंतजाम की ज़िम्मेदारी ली है।

वहीँ इससे पहले शनिवार को मुंबई के आज़ाद मैदान में नागरिकता कानून और एनआरसी के खिलाफ ‘संविधान बचाओ रैली’ आयोजित की गई। इस रैली में बड़ी तादाद में लोगों ने भाग लिया और आज़ाद मैदान भीड़ से खचाखच भरा नज़र आया।

रैली को संबोधित करते हुए फिल्म अभिनेता सुशांत सिंह ने एक कविता भी पढ़ी। उन्होंने कहा कि ‘क्या कह सकते हैं हवा में पहले ही इतना ज़हर है, कैसे पता चलता कि आज का ये धुंआ कहर है..सुशांत सिंह ने आगे कहा कि ‘आग बुझी नहीं है अभी,इससे पहले हवा और गर्म हो जाए इसे बुझाना होगा,आदमखोरों से मुल्क बचाना होगा।’

क्या है देशभर में प्रदर्शनों का हाल:

दिल्ली के शाहीन बाग़ में दो महीने से अधिक समय से चल रहा प्रदर्शन जारी है। रविवार को शाहीन बाग़ के प्रदर्शनकारी गृहमंत्री अमित शाह से मिलने के लिए कूच किया तो दिल्ली पुलिस ने उन्हें समझा बुझाकर वापस भेज दिया। वहीँ जामिया के छात्रों का धरना रविवार को भी जारी है।

उत्तर प्रदेश के लखनऊ में घटाघर पर नागरिकता कानून के खिलाफ प्रदर्शन जारी है। अलीगढ के भुजपुरा में भी नागरिकता कानून के खिलाफ महिलाएं धरने पर बैठी हैं।

वहीँ अलीगढ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में भी नागरिकता कानून के खिलाफ छात्रों जारी है। एएमयू के डॉक्टरों और छात्रों ने डॉ. कफील खान की रिहाई के लिए प्रदर्शन किया। डॉ. कफील खान पर AMU में भड़काऊ बयान देने के आरोप में राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (NSA) के तहत कार्रवाई की गई है।

प्रयागराज, आज़मगढ़, रायबरेली और कानपुर में भी नागरिकता कानून के खिलाफ प्रदर्शन जारी है।

बेंगलुरू के फ्रीडम पार्क में विभिन्न संगठन नागरिकता कानून,एनआरसी और एनपीआर के विरोध में आयोजित प्रदर्शन के लिए एकत्रित हुए।

चेन्नई के ओल्ड वॉशरमैनपेट में नागरिकता संशोधन कानून और NRC के खिलाफ विरोध प्रदर्शन जारी है।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें