अपराध बड़ी खबर

गूगल टूलकिट मामले में कार्रवाही, पुलिस ने 21 साल की एक्टिविस्ट को किया बेंगलुरु से गिरफ्तार

बेंगलुरु। किसानों के विरोध से संबंधित ‘टूलकिट’ शेयर करने के आरोप में दिल्ली पुलिस ने 21 साल की क्लाइमेट एक्टीविस्ट दिशा रवि को बेंगलुरु से गिरफ्तार किया है। आरोप है कि दिशा ने कथित रूप से टूलकिट बनाकर इसे सोशल मीडिया पर आगे बढ़ाया था।

पुलिस के मुताबिक ट्रैक्टर की रैली के दौरान 26 जनवरी की हिंसा सहित किसान विरोध प्रदर्शन में घटनाओं का क्रम टूलकिट में साझा की गई कथित कार्य योजना की “नकल” थी।

पुलिस के अनुसार स्वीडन की क्लाइमेट एक्टिविस्ट ग्रेटा थनबर्ग ने भारत में चल रहे किसान आंदोलन के समर्थन के लिए एक ‘टूलकिट’ (गूगल डॉक्युमेंट) ट्विटर पर शेयर किया था, हालांकि बाद में उन्होंने वो ट्वीट ‘पुराना टूलकिट’ बताते हुए डिलीट कर लिया था। बाद में ग्रेटा ने अपडेटेड टूलकिट भी ट्वीट किया। यह दस्तावेज गूगल डॉक के जरिए अपलोड किया गया और बाद में ट्विटर पर साझा किया गया।

इस मामले में दिल्ली पुलिस ने टूलकिट बनाने वालों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धार 124-ए, 120-ए और 153-ए के तहत राजद्रोह, आपराधिक षडयंत्र और समूहों के बीच घृणा को बढ़ावा देने के आरोप में 4 फरवरी को पहली रिपोर्ट दर्ज की थी। जिसे क्लाइमेट एक्टीविस्ट ग्रेटा थुबर्ग ने अपने ट्वीटर के माध्यम से शेयर किया था।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
ये भी पढ़ें:  चुनाव आयोग ने सीएम ममता बनर्जी को भेजा नोटिस, 24 घंटे में मांगा जबाव
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें