चुनाव बड़ी खबर बिहार-झारखंड

बिहार में आज बढ़ेगा चुनावी तापमान, पीएम मोदी- राहुल गांधी सहित कई बड़े नेता करेंगे रैलियां

पटना ब्यूरो। बिहार विधानसभा चुनाव में प्रचार का काम अपने चरम पर पहुंच चूका है। सत्तारूढ़ जनता दल यूनाइटेड-बीजेपी और विपक्षी दल राष्ट्रीय जनता दल और कांग्रेस सहित घटक दलों के नेता चुनाव प्रचार में पसीना बहा रहे हैं और ताबड़तोड़ सभाएं कर रहे हैं।

आज बिहार का राजनैतिक तापमान बढ़ने की पूरी संभावना है। आज बिहार में कई दिग्गजों की मौजूदगी रहेगी। स्वयं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज बिहार में तीन चुनावी रैलियों को संबोधित करेंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज बिहार में सासाराम, गया और भागलपुर में चुनावी रैलियों को संबोधित करेंगे। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार देहरी और भागलपुर की रैलियों में पीएम मोदी के साथ मंच साझा करेंगे।

वहीँ पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी आज बिहार में दो रैलियों को संबोधित करेंगे। वे भागलपुर जिले कहलगांव में और नवादा के हिसुआ में दो अलग-अलग रैलियों को संबोधित करेंगे। हिसुआ में होने वाली रैली में राहुल गांधी के साथ मंच पर राजद नेता और मुख्यमंत्री पद के दावेदार तेजस्वी यादव भी मौजूद रहेंगे।

राहुल गांधी की आज होने वाली दो चुनावी रैलियों को सफल बनाने के लिए कांग्रेस ने पूरी जान फूंक दी है। कांग्रेस के कई कद्दावर नेता पिछले तीन दिनों से बिहार में डेरा डाले हुए हैं।

ये भी पढ़ें:  शुभेंदु अधिकारी ने बीजेपी की उम्मीदों पर पानी फेरा

बिहार में चुनावी माहौल अब जोर पकड़ चूका है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और राष्ट्रीय जनता दल नेता तेजस्वी यादव प्रतिदिन कई चुनावी सभाएं कर रहे हैं। हालांकि अधिक भीड़ तेजस्वी यादव की सभाओं में जुट रही है।

पीएम मोदी की रणनीति से चल रहे तेजस्वी:

राजद नेता तेजस्वी यादव इस बार चुनाव में बदली हुई रणनीति से मैदान में उतरे हैं। उन्होंने चुनाव से पहले युवा राजद और छात्र राजद को न सिर्फ मजबूत किया है बल्कि प्रचार में अगली पंक्ति में रखा है। तेजस्वी यादव की सभाओं में युवा और छात्रों को मंच के करीब जगह दी जा रही है।

2014 के लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी ने पीएम नरेंद्र मोदी की सभाओं के लिए यही रणनीति इस्तेमाल की थी। पीएम मोदी की रैली में विधार्थी परिषद और भाजयुमो के कार्यकर्ताओं को आगे की पंक्ति में मंच के करीब स्थान दिया जाता था। जहाँ से वे मोदी मोदी के नारे लगाकर मीडिया का ध्यान अपनी तरफ खींचते थे।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें