बड़ी खबर राजस्थान राज्य

बीजेपी के मुंह हॉर्स ट्रेडिंग का खून लग चुका है, पीएम मोदी राजस्थान का तमाशा बंद कराएं: गहलोत

जयपुर। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने एक बार फिर कांग्रेस विधायकों की खरीद फरोख्त की कोशिशों के लिए बीजेपी को ज़िम्मेदार बताया है। गहलोत ने पीएम मोदी से अपील की कि वे राजस्थान में बीजेपी द्वारा की जा रही हॉर्स ट्रेडिंग की कोशिशों को बंद कराएं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि ‘भाजपा का हॉर्स ट्रेडिंग का खेल बहुत बड़ा है, उनके मुंह खून लग चुका है, कर्नाटक में, मध्य प्रदेश में, इसलिए वो यहां प्रयोग कर रहे हैं। पूरा गृह मंत्रालय इस काम में लगा है। धर्मेंद्र प्रधान, पीयूष गोयल की तरह कई मंत्री लगे हुए हैं। कई छुपे रुस्तम भी हैं।

उन्होंने कहा कि मोदी जी को प्रधानमंत्री होने के नाते चाहिए कि राजस्थान में जो कुछ भी तमाशा हो रहा है उसे बंद कराएं, हॉर्स ट्रेडिंग के रेट बढ़ गए हैं। जैसे ही विधानसभा सत्र की घोषणा हुई इन्होंने और रेट बढ़ा दिए।

राजस्थान में कोरोना संक्रमण की स्थति को लेकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि कोविड की स्थिति पर मैं प्रधानमंत्री जी को पत्र लिख रहा हूं कि सभी मुख्यमंत्रियों की वीडियो कॉन्फ्रेंस फिर से की जाए। कोरोना से डरने की जरूरत नहीं है। हमारे यहां मृत्यु दर पहले 2% के आसपास थी, अब यह 1% नीचे आ गई है।

गौरतलब है कि राजस्थान में कांग्रेस विधायकों की खरीद फरोख्त की कोशिशों के बाद विधायकों को जयपुर के होटल में ठहराया गया था। इस दौरान विधानसभा का सत्र बुलाये जाने के लिए राज्य सरकार और राजभवन के बीच रस्साकशी चलती रही। विधानसभा का सत्र आयोजित करने के लिए गहलोत सरकार की तरफ से राज्यपाल कालराज मिश्र को चार बार प्रस्ताव भेजना पड़ा।

राज्यपाल कालराज मिश्र द्वारा चौथे प्रस्ताव पर 14 अगस्त से विधानसभा का सत्र बुलाये जाने की सहमति दी गई। इसके बाद विधायकों की खरीद फरोख्त की आशंका को देखते हुए सभी कांग्रेस विधायकों को जयपुर से हटाकर जैसलमेर के एक होटल में शिफ्ट कर दिया गया है।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें