बड़ी खबर राजनीति

ओवैसी बोले ‘नागरिकता कानून पर पीएम मोदी बोल रहे झूठ’

विजयवाड़ा। आल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने पीएम नरेंद्र मोदी पर नागरिकता कानून को लेकर झूठ बोलने का आरोप लगाया है।

विजयवाड़ा में एक सभा को संबोधित करते हुए असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि, ‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी झूठ बोल रहे हैं कि CAA नागरिकता छीनता नहीं,बल्कि देता है।’

ओवैसी ने कहा कि, ‘असम में हाल ही में NRC हुआ जिसमें 19 लाख लोगों के नाम नहीं आए। जिसमें से 5 लाख मुसलमान हैं। अब सरकार 13 लाख गैर मुसलमान लोगों को नागरिकता देनी चाहेगी और देगी।’

उन्होंने कहा कि, ‘असम NRC में जिन 5लाख मुसलमानों के नाम नहीं आए उन्हें CAA से नागरिकता नहीं देगी। उनसे कहा जा रहा है कि विदेशी ट्रिब्यूनल में जाकर अपना मुकदम्मा लड़िए अगर ट्रिब्यूनल में हार गए तो HC में, वहां हारने पर SC में और तब तक हम आपको डिटेंशन कैंप में रखेंगे।’

गौरतलब है कि नागरिकता कानून को लेकर जहाँ पीएम नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह एक इंच पीछे न हटने की बात कह रहे हैं, वहीँ विपक्ष नागरिकता कानून को लेकर संसद से सड़क तक विरोध कर रहा है।

विपक्ष का कहना है कि नागरिकता कानून में धर्म के आधार पर नागरिकता देने का प्रावधान भारत के संविधान की मूल भावनाओं के खिलाफ है। इस कानून में या तो बदलाव किया जाए या फिर इसे रद्द किया जाए।

नागरिकता संशोधन कानून पर संसद में बहस के दौरान एआईएमआईएम सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने संसद में सीएए संशोधन की प्रति भी फाड़ दी थी। उन्होंने बहस में हिस्सा लेते हुए इस पर कड़ा विरोध जताया था।

वहीँ नागरिकता कानून पर देश पर में हो रहे विरोध प्रदर्शनों के बीच पीएम नरेंद्र मोदी ने हाल ही में उत्तर प्रदेश में एक सभा को संबोधित करते हुए नागरिकता कानून (सीएए) को दृणता से लागू करने की बात कही थी।

नागरिकता कानून के खिलाफ सुप्रीमकोर्ट में करीब 143 याचिकाओं पर भी जल्द ही सुनवाई होनी है। इससे पहले 22 फरवरी को सुप्रीमकोर्ट ने सुनवाई के बाद केंद्र सरकार को जबाव के लिए चार सप्ताह का समय देते हुए नोटिस जारी किया था।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें