देश बड़ी खबर

वैक्सीन की कमी पर विपक्ष ने सरकार को घेरा, नवाब मलिक ने पीएम मोदी को बताया विफल

नई दिल्ली। देश में कोरोना की रफ्तार के बीच वैक्सीन की कमी को लेकर आज विपक्ष ने पीएम नरेंद्र मोदी पर सीधा हमला बोला है। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी(एनसीपी) नेता और महाराष्ट्र सरकार में मंत्री नवाब मलिक ने कोरोना को संभालने में पीएम मोदी को विफल करार दिया है।

नवाब मलिक ने कहा कि देश में जब 500 कोरोना के मामले थे तो प्रधानमंत्री ने देश में लॉकडाउन लगाया था। अब मामले जिस तरह से बढ़ रहे हैं, केंद्र ने कोई नीति नहीं बनाई है। प्रधानमंत्री कोरोना परिस्थिति से अपने हाथ को झटकने का काम कर रहे हैं। कोरोना को संभालने में प्रधानमंत्री विफल हो रहे हैं।

उन्होंने कहा कि आज की तारीख में मरीजों को ऑक्सीजन देने की क्षमता देश में नहीं है। विदेशों से जो मदद आई है वो भी गोदामों में पड़ी हुई हैं। केंद्र सरकार को बड़े पैमाने पर ऑक्सीजन कंसंट्रेटर के ऑर्डर देने चाहिए।

वहीँ महाराष्ट्र के स्वास्थ मंत्री राजेश टोपे ने कहा कि हमारे पास 45 साल से ज्यादा उम्र के लोगों के लिए वैक्सीन की डोज़ खत्म हो गई है। करीब साढ़े पांच लाख लोग ऐसे है जिन्हें कोवैक्सीन की दूसरी डोज़ तुरंत देनी ज़रूरी है। हमने 18 साल से ज्यादा उम्र के लोगों के लिए 60 लाख वैक्सीन की डोज़ खरीदी है।

ये भी पढ़ें:  सरकार और ट्विटर टकराव पर शिवसेना का वार: ट्विटर कब्ज़े में नहीं आया तो बोझ लगने लगा

वैक्सीन की कमी को लेकर राष्ट्रीय जनता दल ने भी सवाल खड़े किये हैं। राष्ट्रीय जनता दल सांसद मनोज झा ने कहा कि वैक्सीन को लेकर हालात चिंताजनक है। वैक्सीनेशन के जरिए हमने कई महामारियों को दूर किया हैं, इसके लिए दुनिया में हमारा नाम लिया जाता है। 18 साल से ज्यादा उम्र के लोगों को वैक्सीन देने का निर्णय हमने लिया हैं। क्या हमारे पास पर्याप्त मात्रा में वैक्सीन है?

गौरतलब है कि देश के कई राज्यों में टीकाकरण के तीसरे चरण में 18 वर्ष से अधिक के लोगों को कोरोना वैक्सीन का टीका दिए जाने का काम शुरू किया गया है। कई राज्यों में वैक्सीन उपलब्ध न होने के कारण यह टीकाकरण शुरू नहीं हो सका है। वहीँ महाराष्ट्र में 45 वर्ष से अधिक के लोगों को वैक्सीन की दूसरी डोज दिए जाने को लेकर सरकार वैक्सीन की किल्ल्त से जूझ रही है।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें