देश बड़ी खबर

देश में कोरोना के मरीजों की तादाद 600 के पार, मध्य प्रदेश में एक महिला की मौत

नई दिल्ली। देश में कोरोना तेजी से पैर फैला रहा है, मरीजों की तादाद में हो रही बढ़ोत्तरी बेचैनी बढ़ाने वाली है। देश में मरीजों की संख्या 606 हो गई है। अब तक 42 मरीज ठीक हो चुके हैं और 10 लोगों की मौत हो चुकी है।

स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, दिल्ली में मंगलवार को जिस मरीज की मौत हुई थी, उसका दूसरा टेस्ट नेगेटिव आया है। वहीँ दिल्ली के मोहल्ला क्लीनिक का एक डॉक्टर कोरोना पॉजिटिव पाया गया है। इस खुलासे के बाद 2 मार्च से लेकर 18 मार्च तक जो भी मरीज इस मोहल्ला क्लीनिक में आए हो उनको आदेश दिया गया है कि वो 15 दिन के लिए खुद को आइसोलेट करें।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस के 5 नए केस सामने आए हैं। अब 35 केस हो गए हैं। अब हम मामलों को नहीं बढ़ने देना है। लॉकडाउन के नियमों का पालन करें और सभी घरों में रहें।

कोरोना वायरस से देश में एक और मौत हो गई है। मध्य प्रदेश में पहली मौत हुई है। इंदौर में 60 साल के एक शख्स ने दम तोड़ा दिया। मध्य प्रदेश में कोरोना के पांच नए मामले सामने आए हैं। इंदौर में 4 और उज्जैन में 1 पॉजिटिव केस मिला है। राज्य में कोरोना मरीजों की संख्या 14 हो गई है।

वहीँ महाराष्ट्र के सांगली में एक ही परिवार के 5 लोग कोरोना से संक्रमित मिले हैं। महाराष्ट्र में केसों की संख्या बढ़कर 112 हो गई है। कोरोना वायरस को लेकर महाराष्ट्र में उद्योग मंत्री सुभाष देसाई ने समाचार पत्र, फेरीवालों और प्रकाशकों की बैठक बुलाई गई, जिसमें निर्णय लिया गया कि मुंबई में एक अप्रैल, 2020 से समाचार पत्रों का प्रकाशन और वितरण किया जाएगा। वर्तमान में यहां समाचार पत्रों का मुद्रण और वितरण रुका हुआ है।

गुजरात में बुधवार को तीन नए मामले सामने आए हैं। अहमदाबाद में एक महिला, सूरत वड़ोदरा में एक-एक पुरुष पॉजिटिव मिले हैं. गुजरात में कोरोना के मरीजों की संख्या 38 हो गई है।

तमिलनाडु में कोरोना वायरस के तीन और मामले सामने आए हैं, जिसके बाद यहां पर कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या 23 हो गई है। वहीँ उत्तर प्रदेश के पीलीभीत में कोरोना वायरस का एक और मामला आया है। उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस के 36 पॉजिटिव केस मिल चुके हैं।

गौरतलब है कि कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के मद्देनज़र प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ऐलान के बाद रात 12 बजे से 21 दिनों के लिए राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन लागू हो गया है। ज़रूरी सेवाओं को छोड़कर सभी चीजें 21 दिनों के लिए बंद कर दी गई है। इस दौरान लोगों से घर पर ही रहने की अपील की गई है।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें