उत्तर प्रदेश राज्य

पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में सपा-कांग्रेस का दबदबा, बीजेपी का सफाया

वाराणसी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र में महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ छात्र संघ चुनाव में भारतीय जनता पार्टी के छात्र संगठन अखिल भारतीय विधार्थी परिषद का सफाया होगया है। वहीँ समाजवादी पार्टी और कांग्रेस के छात्र संगठन ने चुनावी बाजी मार ली है।

महात्मा गांधी काशी विद्यापविद्यापीठ छात्र संघ चुनाव में समाजवादी पार्टी छात्र सभा के उम्मीदवार विमलेश यादव अध्यक्ष चुने गए। वहीँ कांग्रेस के छात्र संगठन एनएसयूआई ने अच्छा प्रदर्शन करने हुए उपाध्यक्ष और महामंत्री पद पर कब्ज़ा जमाया है।

चुनाव में एनएसयूआई के संदीप पाल उपाध्यक्ष तथा प्रफुल्ल पांडेय महामंत्री पद पर विजयी रहे हैं। काशी विद्यापीठ में कुल 8 संकाय हैं, जिनमें से 6 पर एनएसयूआई उम्मीदवार विजयी रहे है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संसदीय क्षेत्र होने के कारण यहां विधार्थी परिषद के उम्मीदवारों के समर्थन में परदे के पीछे से बीजेपी के कई स्थानीय कद्दावर नेताओं ने पूरी ताकत झौंकी थी। यहां तक कि छात्र संघ के चुनाव के लिए रणनीति बनाने का काम भी वाराणसी भारतीय जनता पार्टी के कार्यालय में किया गया।

इतना ही नहीं पार्टी के जिला और शहर स्तर के बड़े नेता भी छात्र संघ चुनाव में सक्रिय दिखाई दिए तथा विधार्थी परिषद के उम्मीदवारों के प्रचार में जमकर पैसा भी खर्च किया गया। इतना सबकुछ होने के बावजूद भारतीय जनता पार्टी समर्थित अखिल भारतीय विधार्थी परिषद को छात्रों ने नकार दिया।

ये भी पढ़ें:  कोरोना संक्रमण के बीच ऐसे होगी तरावीह की नमाज़, मुस्लिम धर्म गुरु ने की अपील

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें