देश बड़ी खबर

अब हिमाचल में गाय को खिलाया विस्फोटक, नंदलाल का नाम आया सामने

बिलासपुर। केरल के पलक्क्ड़ जिले में एक गर्भवती हथिनी को विस्फोटक खिलाकर जान लेने के बाद अब हिमाचल प्रदेश में एक गाय को विस्फोटक खिलाये जाने का मामला सामने आया है। गाय को विस्फोटक खिलाये जाने से उसका मूंह बुरी तरह से ज़ख़्मी हो गया है।

हिमाचल प्रदेश के बिलासपुर जिले के डार गांव की यह घटना है। गांव के गुरुदयाल सिंह नामक व्यक्ति ने एक वीडियो जारी कर कहा है कि उसकी गाय को उसके पड़ौसी नंदलाल ने विस्फोटक खिला दिया, जिससे उसके चेहरे का आधा हिस्सा लहूलुहान हो गया है।

गुरुदयाल सिंह का कहना है कि उसकी गाय प्रेग्नेंट है और जल्द ही वह बच्चा देने वाली है। गुरुदयाल के मुताबिक गाय को विस्फोटक खिलाने वाला नंदलाल उसके पड़ौस में ही रहता है और मिस्त्री का काम करता है।

गुरुदयाल ने कहा कि गाय को विस्फोटक खिलाने के बाद से नंदलाल गायब है और वह घर से भाग गया है। उन्होंने कहा कि ये गौ हत्या है, सरकार इस पर कार्रवाही करे, गौ हत्या रुकनी चाहिए।

पुलिस ने इस घटना को लेकर मामला दर्ज कर एक व्यक्ति को गिरफ्तार कर लिया है। सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो का संज्ञान लेते हुए डीएसपी मुख्यालय संजय शर्मा और पुलिस थाना झडूता थाना प्रभारी प्रीतम चंद शर्मा शनिवार को मौके पर गए व मामले की छानबीन शुरू कर दी है।

क्या है मामला:

हिमाचल प्रदेश के बिलासपुर जिले में एक गाय को विस्फोटक खिलाये जाने के बाद हुए ब्लास्ट में उसके चेहरे के एक तरफ के हिस्से के चिथड़े उड़ गए। हालांकि खबर लिखे जाने तक गाय ज़िंदा है लेकिन वह बुरी रह से ज़ख़्मी दिख रही है। घायलावस्था में ही गाय ने बछड़े को भी जन्म दिया है। जिस व्यक्ति की गाय है उसने अपने पड़ौसी पर गाय को विस्फोटक खिलाने का आरोप लगाया है। नंदलाल नामक पड़ौसी फ़िलहाल गायब हो गया है।

गौरतलब है कि इससे पहले शुक्रवार को केरल के पलक्क्ड़ जिले में एक गर्भवती हथिनी की विस्फोटक खिलाये जाने के कारण मौत हो गयी थी। हथिनी को विफोटक खिलाये जाने के बाद वह दो दिन तक पानी में खड़ी रही और अंत में उसकी मौत हो गई। इस मामले में पुलिस ने विल्सन नामक एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है।

हथिनी की मौत को लेकर देश की रजनीति में आरोप प्रत्यारोप का दौर भी चला। इस मामले में पलक्क्ड़ जिले की घटना को मल्लपुरम से जोड़ने और कथित तौर पर भड़काऊ टिप्पणी किये जाने के लिए पूर्व केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी के खिलाफ भी केरल में मामला दर्ज हुआ है।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें