चुनाव बड़ी खबर

नीतीश के तंज पर तेजस्वी ने यह दिया जबाव

पटना। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने एक बार फिर बिना नाम लिए पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसद यादव पर निजी हमला बोला है। इस बार नीतीश कुमार ने लालू यादव के परिवार में 9 बच्चो को लेकर व्यक्तिगत टिप्पणी की है।

एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए नीतीश कुमार ने कहा, “लोग 8-9 बच्चे पैदा करते रहते हैं, बेटी पर भरोसा ही नहीं। कई बेटियाँ हो गई, तब बेटा हुआ।आप सोच लीजिए …कैसा बिहार बनाना चाहते हैं? अगर यही लोगों का आदर्श है, तो सोच लीजिए क्या बुरा हाल होगा। कोई पूछने वाला नहीं रहेगा, सब बर्बाद हो जाएगा इसलिए हम आपके बीच में आए हैं।”

नीतीश कुमार के हमले का राजद नेता तेजस्वी यादव ने बेहद शालीनता से जबाव दिया है। नीतीश कुमार पर पलटवार करते हुए तेजस्वी यादव ने ट्वीट कर कहा, “आदरणीय नीतीश जी मेरे बारे में कुछ भी अपशब्द कहे वो मेरे लिए आशीर्वचन है। नीतीश जी शारीरिक-मानसिक रूप से थक चुके है इसलिए वो जो मन करे, कुछ भी बोले। मैं उनकी हर बात को आशीर्वाद के रूप में ले रहा हूँ। इस बार बिहार ने ठान लिया है कि रोटी-रोजगार और विकास के मुद्दों पर ही चुनाव होगा।”

ये भी पढ़ें:  हैदराबाद निकाय चुनाव में जान फूंक रही बीजेपी- नड्डा, शाह, योगी सहित बड़े नेता करेंगे प्रचार

वहीँ नीतीश कुमार के हमले को लेकर राष्ट्रीय जनता दल ने भी पलटवार किया है। राष्ट्रीय जनता दल ने कहा कि बीजेपी-जेडीयू निजी छींटाकशी, पारिवारिक मुद्दों पर कीचड़ उछाल, इतिहास नोंच कर वे बिहार के हित के मुद्दों से ध्यान हटाना चाहते हैं!

राजद ने ट्वीट कर कहा, “JDU BJP ने नेता अपने आपत्तिजनक बयानबाज़ी और प्रसंग से काटकर की जा रही अफवाहबाजी से यह सिद्ध कर रहे हैं कि वो बिहार और बिहार के युवाओं के कितने बड़े शत्रु हैं!निजी छींटाकशी, पारिवारिक मुद्दों पर कीचड़ उछाल, इतिहास नोंच कर वे बिहार के हित के मुद्दों से ध्यान हटाना चाहते हैं!”

बिहार में बुधवार (28अक्टूबर) को विधानसभा चुनाव के पहले चरण में 16 जिलों की 71 सीटों पर मतदान होगा। पहले चरण में जिन 71 सीटों के लिए मतदान होना है उनमे कुल 1066 प्रत्याशी अपना भाग्य आजमा रहे हैं। इस चरण में कुल दो करोड़ 14 लाख छह हजार 96 मतदाता मतदान करेंगे जिसके लिए चुनाव आयोग ने पूरी तैयारी की है। नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में सुरक्षा बलों की विशेष तैनाती की गई है।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें