बड़ी खबर बिहार-झारखंड राज्य

चुनाव प्रचार में पीएम मोदी का फोटो इस्तेमाल करने के मुद्दे पर बीजेपी-लोजपा में तकरार

नई दिल्ली। बिहार विधानसभा के लिए हो रहे चुनाव से पहले भारतीय जनता पार्टी और लोकजनशक्ति पार्टी के बीच अब नया मतभेद पैदा हो गया है। यह मतभेद चुनाव प्रचार में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के फोटो को इस्तेमाल करने को लेकर है।

भारतीय जनता पार्टी का कहना है कि एनडीए में शामिल दल ही प्रचार के लिए पीएम नरेंद्र मोदी और बीजेपी के शीर्ष नेताओं के फोटो का इस्तेमाल कर सकते हैं। ऐसे में लोकजनशक्ति पार्टी को पीएम मोदी का फोटो इस्तेमाल करने की अनुमति नहीं है।

भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष संजय कुमार जायसवाल का कहना है कि चुनावों में कोई भी गैर-एनडीए का व्यक्ति, पोस्टर या किसी प्रचार सामग्री पर प्रधानमंत्री की तस्वीरों का इस्तेमाल करते पाए जाते हैं, तो भाजपा प्राथमिकी दर्ज करेगी।

इसी मामले में मंगलवार को, बीजेपी के वरिष्ठ नेता और राज्य के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने लोक जनशक्ति पार्टी का नाम लिए बिना कहा कि यदि कोई पीएम मोदी की तस्वीरों का इस्तेमाल करता है तो उनकी पार्टी चुनाव आयोग से शिकायत करेगी।

उन्होंने कहा कि हमें सूचना मिली है कि बहुत सारे निर्दलीय लोग और अन्य दर्जनों दल जो बिहार में बने हैं वो मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री की फोटो इस्तेमाल कर सकते हैं।

ये भी पढ़ें:  पश्चिम बंगाल में ममता आज से शुरू करेंगी बड़ा अभियान 'द्वारे द्वारे सरकार'

वहीँ बीजेपी की तरफ से आये बयानों पर लोक जनशक्ति पार्टी ने पलटवार में कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी सिर्फ बीजेपी के नहीं हैं, वे पूरे देश के प्रधानमंत्री हैं। इसलिए बीजेपी उन्हें पीएम मोदी की तस्वीर के इस्तेमाल से नहीं रोक सकती।

गौरतलब है कि लोक जनशक्ति पार्टी के नेता चिराग पासवान अब तक ये कहते हैं आये हैं कि वे चुनाव के बाद सरकार बनाने में बीजेपी को सहयोग करेंगे। दूसरी तरफ चिराग पासवान नीतीश कुमार के नेतृत्व का विरोध भी करते रहे हैं। विधानसभा चुनाव को लेकर लोक जनशक्ति पार्टी ने स्पष्ट तौर पर नीतीश कुमार के नेतृत्व में चुनाव लड़ने से इंकार करते हुए एनडीए से अलग होकर अकेले चुनाव लड़ने का एलान किया है।

फिलहाल चुनाव प्रचार में पीएम नरेंद्र मोदी और बीजेपी के अन्य नेताओं की तस्वीरें इस्तेमाल करने को लेकर लोक जनशक्ति पार्टी और बीजेपी के बीच पैदा हुआ विवाद और गहरा होने की संभावना है।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें