देश बड़ी खबर

कई गंभीर आरोपों से घिरे समीर वानखेड़े से एनसीबी टीम की पूछताछ

मुंबई। क्रूज़ ड्रग्स मामले में गवाह प्रभाकर सेल द्वारा एनसीबी के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े पर कथित तौर पर उगाही के लगाए गए आरोपों को लेकर शुक्रवार को नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) की एक टीम ने समीर वानखेड़े से पूछताछ की है।

मुंबई में एनसीबी के डिप्टी डीजी ज्ञानेश्वर सिंह ने न्यूज़ एजेंसी एएनआई से बात करते हुए बताया कि समीर वानखेड़े से पूछताछ की गई थी, उन्होंने कुछ ज़रुरी कागज़ात जमा कराए हैं। हमने उन्हें कुछ और दस्तावेज़ जमा करने को कहा है। ज़रुरत पड़ने पर हम उनसे फिर पूछताछ करेंगे।

उन्होंने बताया कि 5 सदस्यी विजिलेंस टीम बुधवार को मुंबई पहुंची। हमने इस संबंध में काफी रिकॉर्ड इकट्ठे किए। अबतक 5 ऑफिशियल और 3 प्राइवेट लोगों से पूछताछ की गई है। हमने पुलिस आयुक्त से भी मदद ली। हम अदालत से अनुरोध करेंगे कि के.पी. गोसावी को भी जांच में शामिल किया जाए।

गौरतलब है कि क्रूज़ ड्रग्स मामले में एनसीबी के गवाह प्रभाकर सेल ने अपने हलफनामे में एनसीबी अधिकारी समीर वानखेड़े तथा अन्य पर भ्रष्टाचार और बसूली की कोशिशों के गंभीर आरोप लगाए हैं। इतना ही नहीं इस मामले में रेड करने वाली टीम के साथ के पी गोसावी की मौजूदगी को लेकर भी समिट वानखेड़े सवालो के घेरे में हैं।

ये भी पढ़ें:  पंजाब विधानसभा चुनाव में ‘आप’ के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार होंगे भगवंत मान

वहीँ एनसीपी नेता और महाराष्ट्र सरकार में मंत्री नवाब मलिक द्वारा भी एनसीबी अधिकारी समीर वानखेड़े पर फ़र्ज़ीवाड़े से नौकरी हासिल करने के गंभीर आरोप लगाए गए हैं। नवाब मलिक ने समीर वानखेड़े का जन्म प्रमाणपत्र और पहली शादी का निकाहनाम भी सार्वजनिक किया है। इसके बाद एनसीबी अधिकारी समीर वानखेड़े ने अपनी गिरफ्तारी का भय जताते हुए बॉम्बे हाईकोर्ट में याचिका भी दायर की थी।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें