देश बड़ी खबर

महाराष्ट्र में 28 मार्च से नाइट कर्फ्यू, गृहसचिव ने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशो को लिखा पत्र

मुंबई। महाराष्ट्र सरकार ने राज्य में रविवार 28 मार्च से नाइट कर्फ्यू लागू करने का एलान किया है। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा कि राज्य में कोविड-19 का खतरा खत्म नहीं हुआ है बल्कि बढ़ गया है। उन्होंने कहा कि जिले के डीएम स्थिति के आधार पर लॉकडाउन लगा सकते हैं।

सीएम उद्धव ठाकरे ने आज राज्य के अधिकारीयों के साथ बैठक की। इस बैठक में फैसला लिया गया कि राज्य में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलो पर लगाम लगाने के लिए फ़िलहाल रात्रि का कर्फ्यू लागू किया जाए साथ ही कोरोना गाइडलाइन का पालन कराया जाए।

उद्धव ठाकरे ने लोगों से कोरोना गाइडलाइंस का सख्ती से पालन करने का कहा है। उन्होंने मास्क लगाने, दो गज की दूरी बनाए रखने और बार-बार हाथ धोने पर फिर से जोर दिया। उन्होंने कहा कि विवाह समारोह में अधिकतम 50 जबकि अंतिम संस्कार में 20 लोगों को शामिल होने की अनुमति होगी। सभी राजनीतिक और सामाजिक कार्यक्रम भी रद्द कर दिए गए हैं।

गृह सचिव ने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशो को लिखा पत्र:

ये भी पढ़ें:  पश्चिम बंगाल में बड़ी टूट की तरफ बीजेपी, 35 विधायक दीदी के संपर्क में

वहीँ केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला ने सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को आगामी त्योहारों पर कोरोना संक्रमण को ध्यान में रखते हुए आवश्यक उपाय करने के लिए पत्र लिखा है। उन्होंने कहा कि देश में एक बार फिर कोरोना के मामले बढ़ने लगे हैं. कुछ राज्यों में आंकड़ें परेशान करने वाले हैं।

गृह सचिव ने पत्र में कहा कि हारों का सीजन आ रहा है और कोरोना का डर भी एक बार फिर बढ़ने लगा है। उन्होंने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को निर्देश देते हुए कहा कि होली, ईस्टर, ईद-उल-फितर आदि को लेकर खास ध्यान रखा जाए. कोरोना की सभी गाइडलाइन का पालन होना चाहिए। उन्होंने कहा त्योहारों में भीड़ को नियंत्रित करें। ध्यान रहे की सभी लोगों ने मास्क पहना हो, उचित दूरी बनाई जाए।

हिमाचल प्रदेश में एक सप्ताह के लिए स्कूल-कॉलेज बंद:

हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने एलान किया है कि कोरोना के बढ़ते मामलों के मद्देनजर मंदिरों में लंगरों, भजन कीर्तन, हवन पर अभी रोक लगाई गई है। ज्यादा टेस्टिंग करने के निर्देश दिए गए हैं। कल के बाद 1 सप्ताह के लिए हम स्कूल बंद कर रहे हैं।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें