बड़ी खबर मनोरंजन

बुज़र्ग महिला पर टिप्पणी: चौतरफा घिरी कंगना, खाप पंचायत ने कही ये बात

नई दिल्ली। किसान आंदोलन में पंजाब से शामिल होने आई 88 साल की महिंदर नामक एक बुज़ुर्ग महिला को शाहीन बाग़ आंदोलन की बिलकिस बताने और 100 रूपये में उपलब्ध होने की टिप्पणी अब फिल्म अभिनेत्री कंगना रनौत को भारी पड़ती दिख रही है।

कंगना की कथित टिप्पणी के खिलाफ जहां पंजाब और हरियाणा में लोगों का गुस्सा फूट पड़ा हैं वहीँ अब इस मामले में खाप पंचायतें भी सख्त रुख दिखा रही हैं। इतना ही नहीं कंगना का ट्विटर एकाउंट सस्पेंड कराने के लिए बॉम्बे हाईकोर्ट में एक याचिका भी दायर की गई है।

कंगना की टिप्पणी को लेकर खाप नेता और अखिल भारतीय सर्वजातीय पुनिया खाप के राष्ट्रीय प्रवक्ता जितेंद्र छातर ने कहा, हिम्मत हैं हरियाणा आइये आपको अपनी औकात का पता लगेगा।

उन्होंने कहा कि पूरे देश की खापें कंगना रनौत के शर्मनाक बयान की कड़े शब्दों में निंदा करती है और उनको यह चेतावनी देती है कि यह बयान देने के बाद उनमें अगर हिम्मत है तो हरियाणा व आसपास के राज्यों पश्चिमी उतर प्रदेश, पंजाब, राजस्थान में घुस कर दिखाए. उनको अपनी औकात का पता चल जाएगा।

ये भी पढ़ें:  महिला किसानो पर टिप्पणी के खिलाफ 800 से अधिक महिला किसानो ने चीफ जस्टिस को लिखा पत्र

खाप पंचायत के प्रवक्ता ने कहा, 100- 100 रुपये में बूढ़ी मां नहीं बल्कि नाचने वाली आ जाती हैं। कंगना रनौत के खिलाफ जींद और अन्य जगह पर मुकदमें भी दर्ज होंगे। इतना ही नहीं उनकी फिल्मों का भी विरोध किया जायेगा।

वहीँ इससे पहले गुरूवार को कंगना की कथित टिप्पणी के लिए फिल्म अभिनेता दिलजीत दोसांझ ने भी ट्विटर पर कंगना की जमकर क्लास ली। वहीँ कंगना रनौत के दिलजीत को करन जौहर का पालतू कहकर पलटवार किया।

कंगना ने ट्वीट में क्या कहा था:

पंजाब की 88 वर्षीय बुज़ुर्ग महिला महिंदर के किसान आंदोलन में शामिल होने की तस्वीर को साझा करते हुए कंगना ने अपने ट्वीट में लिखा था, “हा हा. ये वही दादी हैं जिन्हें टाइम मैगज़ीन की 100 सबसे प्रभावशाली व्यक्तियों की लिस्ट में शामिल किया गया था….और ये 100 रुपये में उपलब्ध हैं।”

जब इस ट्वीट को लेकर कंगना की थू -थू हुई तो बाद में कंगना ने यह ट्वीट डिलीट भी कर दिया था लेकिन तब तक कंगना का ट्वीट वायरल हो चूका था और लोगों ने उसके ट्वीट पर कड़ी प्रतिक्रिया दी।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें