बड़ी खबर मध्यप्रदेश राज्य

अमित शाह के बयान पर कमलनाथ का पलटवार “जनता मेरी उम्र नहीं मेरा काम देख रही है”

भोपाल ब्यूरो। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह द्वारा नागरिकता संशोधन कानून के समर्थन में आयोजित रैली में दिए गए बयान पर मुख्यमंत्री कमलनाथ ने पलटवार किया है।

कमलनाथ ने कहा कि ‘प्रदेश की जनता मेरी उम्र नहीं, काम देख रही है। इसी उम्र में उसने मुझ पर विश्वास कर आपकी पार्टी के कई युवा नेताओं की उम्मीदों पर पानी फेरा है।’

उन्होंने कहा कि पिछले एक वर्ष में मध्य प्रदेश, छतीसगढ़, राजस्थान, महाराष्ट्र और झारखंड के विधानसभा चुनाव के परिणामों से आपको जनता का रूख समझ लेना चाहिए।

कमलनाथ ने कहा, ‘हमने तो एक वर्ष में ही प्रदेश में अपने कामों के आधार पर बदलाव लाकर दिखा दिया है कि सरकार क्या होती है। 365 दिन में वचन पत्र के 365 वादों को पूरा कर बता दिया है कि हम काम में विश्वास रखते है, झूठी घोषणाओं, वादों में नहीं।’

नागरिकता कानून के समर्थन में अमित शाह की रैली पर निशाना साधते हुए मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि ‘मध्य प्रदेश की शांत धरती पर इस क़ानून के नाम पर लोगों को गुमराह करने और माहौल ख़राब करने के लिये भाजपा नेताओं को आने की आवश्यकता नहीं है।’

उन्होंने कहा, ‘अमित शाह जी आप कांग्रेस को नहीं, जनता को समझाए, जो इस सच्चाई को बेहतर ढंग से जानती है कि केन्द्र सरकार अपनी असफलताओं को छिपाने के लिए और वर्तमान हालातों से ध्यान भटकाने के लिए CAA और NRC जैसे क़ानून को जनता पर ज़बरदस्ती थोपने का काम कर रही है।’

गौरतलब है कि नागरिकता कानून के समर्थन में आयोजित एक रैली को संबोधित करते हुए गृहमंत्री अमित शाह ने मुख्यमंत्री कमलनाथ की उम्र का हवाला देते हुए तंज कसा था कि उन्हें इतना चिल्लाकर नहीं बोलना चाहिए, उन्हें अपनी उम्र का ध्यान रखना चाहिए।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें