अपराध बड़ी खबर

अंबानी के घर के बाहर मिले विस्फोटक के नागपुर से जुड़े तार

मुंबई। देश के प्रमुख कारोबारी मुकेश अंबानी के घर के बाहर लावारिस स्कॉर्पियो में मिले विस्फोटक को लेकर मुंबई पुलिस ने कई और राज खोले हैं। पुलिस के मुताबिक पुलिस उस फैक्ट्री तक पहुँचने में सफल रही जिसमें मुकेश अंबानी के घर के बाहर स्कॉर्पियो में मिले जिलेटिन (विस्फोटक) को बनाया गया था।

पुलिस के मुताबिक स्कॉर्पियो में मिले जिलेटिन (विस्फोटक) को नागपुर की सोलार इंडस्ट्री में बनाया गया था। सोलार इंडस्ट्री की ओर से जिन-जिन लोगों को जिलेटिन दिया गया है, उन सबकी विस्तृत जानकारी मुंबई क्राइम ब्रांच के अधिकारियों ने हासिल कर ली है।

टीवी9 मराठी के मुताबिक नागपुर के सोलार इंडस्ट्रीज के चेयरमैन ने कहा कि कार से बरामद जिलेटिन उनकी ही कंपनी में बना है। उन्होंने बताया कि विस्फोटक का कोई भी ऑर्डर उन तक आता है तो उसकी जानकारी पुलिस के एक्सप्लोसिव डिपार्टमेंट के पोर्टल को दे दी जाती है। प्रोडक्ट के डिस्पैच के बाद भी पुलिस के एक्सप्लोसिव डिपार्टमेंट के पोर्टल पर इसकी सूचना दी जाती है।

पुलिस के मुताबिक सीसीटीवी फुटेज से खुलासा हुआ है कि बुधवार को 1 बजे की रात दो गाड़ियां (स्कॉर्पियो और इनोवा) मुकेश अंबानी के घर के पास आकर रूकीं थीं। स्कॉर्पियो में विस्फोटक था। स्कॉर्पियो में सवार होकर आया व्यक्ति इसे खड़ा कर इनोवा में बैठकर चला गया। यह सीसीटीवी फुटेज पुलिस ने एक दुकान के सीसीटीवी से निकाली है।

ये भी पढ़ें:  असम में हॉर्स ट्रेडिंग का डर, परिणाम आने से पहले AIUDF ने 18 उम्मीदवारों को भेजा जयपुर

मीडिया में आई खबरों के मुताबिक, इस स्कॉर्पियो में कई नंबर प्लेट भी बरामद हुई हैं। हालांकि पुलिस स्कॉर्पियो के असली मालिक तक पहुँचने में सफल रही है। मालिक का नाम मनसुख हिरेन है लेकिन उनकी यह स्कॉर्पियो करीब सात से आठ दिनों पहले ही चोरी चली गई थी और चोरी हो जाने के तीन घंटे बाद ही उन्होंने विक्रोली पुलिस स्टेशन को इसकी सूचना दे दी थी।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें