पड़ताल बड़ी खबर

फ्रांसीसी पत्रिका शार्ली एब्डो ने फिर छापे पैग़ंबर मोहम्मद पर विवादित कार्टून

पेरिस। 2015 में कटटरपंथी हमले का निशाना बन चुकी फ्रांसीसी पत्रिका शार्ली एब्डो ने एक बार फिर पैगंबर मोहम्मद के विवादित कार्टून प्रकाशित किये हैं। इन कार्टूनों को उस समय फिर से प्रकाशित किया गया है जब एक दिन बाद ही 14 लोगों पर शार्ली एब्डो के दफ़्तर पर हमला करने वालों की मदद करने के आरोप में मुक़दमा शुरू होने वाला है।

गौरतलब है कि पैगंबर मोहम्मद के विवादित कार्टून प्रकाशित होने के बाद 7 जनवरी वर्ष 2015 को शार्ली हेब्डो के कार्यालय पर हुए हमले में पत्रिका के प्रसिद्द कार्टूनिस्ट सहित 12 लोगों की मौत हो गई थी वहीँ पैरिस में इसी मामले से जुड़े एक अन्य हमले में 05 लोगों की मौत हुई थी।

पत्रिका के ताज़ा संस्करण के कवर पेज पर पैग़ंबर मोहम्मद के वे 12 कार्टून छापे गए हैं, जिन्हें शार्ली एब्डो में प्रकाशित होने से पहले डेनमार्क के एक अख़बार ने छापा था।

अपने संपादकीय में पत्रिका ने लिखा है कि 2015 के हमले के बाद से ही उससे कहा जाता रहा है कि वह पैग़ंबर पर व्यंग्यचित्र छापना जारी रखे।

ये भी पढ़ें:  2024 में बीजेपी को दिल्ली की सत्ता से बेदखल करके दिखाउंगी: ममता

संपादकीय में लिखा गया है, “हमने ऐसा करने से हमेशा इनकार किया इसलिए नहीं कि इसपर प्रतिबंध था। क़ानून हमें ऐसा करने की इजाज़त देता है मगर ऐसा करने के लिए कोई अच्छी वजह होनी चाहिए थी। ऐसी वजह जिसका कोई अर्थ हो और जिससे एक बहस पैदा हो।” इन कार्टूनों को जनवरी 2015 के हमलों पर सुनवाई शुरू होने वाले हफ़्ते में छापना हमें ज़रूरी लगा।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें