देश बड़ी खबर

महबूबा मुफ़्ती ने राज्यपाल सत्यपाल मलिक को भेजा कानूनी नोटिस, ये है पूरा मामला

नई दिल्ली। जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री और पीडीपी की अध्यक्ष महबूबा मुफ़्ती ने जम्मू कश्मीर के पूर्व राज्यपाल सत्यपाल मलिक को कानूनी नोटिस भेजा है। महबूबा ने यह कानूनी नोटिस सत्यपाल मलिक के उस बयान के लिए भेजा है जिसमे उन्होंने महबूबा मुफ़्ती को रोशनी योजना का लाभार्थी बताया था।

गौरतलब है कि जम्मू कश्मीर के राज्यपाल रहे सत्यपाल मलिक ने हाल ही में कई अन्य नेताओं के साथ पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती का नाम जोड़ते हुए आरोप लगाया था कि उन्हें (महबूबा मुफ़्ती) भी रोशनी योजना के तहत प्लॉट मिला है।

सत्यपाल मलिक अब मेघालय के राज्यपाल हैं। हाल ही में उन्होंने आरोप लगाया था कि महबूबा मुफ्ती के साथ ही फारूक अब्दुल्ला और उनके बेटे उमर अब्दुल्ला रोशनी योजना के लाभार्थी थे।

राज्यपाल सत्यपाल मलिक के बयान पर आपत्ति जताते हुए महबूबा मुफ़्ती ने ट्वीट कर विरोध जताया। उन्होंने कहा कि “सत्यपाल मलिक द्वारा मुझे रोशनी अधिनियम का लाभार्थी बताया जाना झूठा, बेहूदा व शरारतपूर्ण है। मेरी कानूनी टीम उनके खिलाफ मामला दर्ज करने की तैयारी कर रही है। उनके (मलिक के) पास अपनी टिप्पणी वापस लेने का विकल्प है, अगर वह ऐसा नहीं करते हैं तो मैं कानूनी कदम उठाउंगी।’’

ये भी पढ़ें:  बिहार विधानसभा में मिलीं शराब की बोतलें, विपक्ष ने नीतीश सरकार को घेरा

इतना ही नहीं महबूबा मुफ्ती ने अपने ट्वीट में राज्यपाल सत्यपाल मलिक का वीडियो लिंक भी साझा किया, जिसमें जम्मू-कश्मीर के पूर्व राज्यपाल दावा कर रहे हैं कि नेशनल कांफ्रेंस नेता फारूक अब्दुल्ला, उनके बेटे उमर अब्दुल्ला और पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती को रोशनी योजना के तहत प्लॉट मिला है।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें