अपराध बड़ी खबर

तब्लीगी जमात को कोरोना के लिए ज़िम्मेदार बताने पर बबिता फोगट के खिलाफ मामला दर्ज

नई दिल्ली। पहलवानी छोड़कर राजनैतिक अखाड़े में उतरीं बबिता फोगट को ट्विटर पर कोरोना संक्रमण को लेकर तब्लीगी जमात को ज़िम्मेदार ठहराने और अपमानजनक शब्दों का इस्तेमाल करना भारी पड़ा है।

बबिता फोगट ने अपने ट्विटर हैंडलर से ट्वीट कर कहा था कि ‘कोरोना वायरस भारत की दूसरे नंबर की सबसे बड़ी समस्या है। जाहिल जमाती अभी भी पहले नंबर पर बना हुआ है।’

बबिता फोगट के इस विवादित ट्वीट के बाद लोगों ने विरोध जताया। यहाँ तक कि ट्विटर पर बबिता फोगट का ट्विटर एकाउंट सस्पेंड करने के लिए #Suspendbabitaphogat ट्रेंड हुआ।

इस मामले में बबिता फोगट के खिलाफ महाराष्ट्र के औरंगाबाद के सिटी चौक पुलिस स्टेशन में एफआईआर दर्ज की गई है। यह एफआईआर एडवोकेट खिजर पटेल ने दर्ज कराई है।

वहीँ एफआईआर दर्ज होने के बाद बबिता फोगट ने अपनी सफाई में ट्विटर पर कहा कि ‘मैंने ट्वीट पर कुछ गलत नहीं लिखा। उस ट्वीट पर अब भी कायम हूं। मैंने उन लोगों के बारे में लिखा है जिन्होंने कोरोना संक्रमण को फैलाया है। क्या तबलीगी जमात के लोगों ने कोरोना संक्रमण को नहीं फैलाया? क्या वे नंबर-1 पर नहीं बने हुए। तब्लीगी जमात के लोगों ने हिंदुस्तान में कोरोना नहीं फैलाया होता तो लॉकडाउन कब का खुल चुका होता और कोरोना हार गया होता। मैनें धर्म, समुदाय या किसी जाति के बारे में नही लिखा मैंने उन लोगों के बारे में लिखा जिन्होंने कोरोना फैलाया है।’

गौरतलब है कि 2014 कॉमनवेल्थ गेम्स की गोल्ड मेडलिस्ट बबीता फोगट ने कुश्ती का अखाड़ा छोड़कर भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो गई थीं। हरियाणा के विधानसभा चिनाव में में भाजपा ने बबिता फोगट को दादरी विधानसभा सीट से टिकिट दिया था लेकिन बबिता फोगट चुनाव हार गयी थीं।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
Support us to keep Lokbharat Live, Give a small Contribution of Rs.100 to Support Fearless & Fair Journalism
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें