देश बड़ी खबर

फारूक अब्दुल्ला की केंद्र को खरी खरी, कहा ‘बालाकोट सर्जिकल स्ट्राइक से हमने क्या पाया’

नई दिल्ली। जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री और नेशनल कांफ्रेंस के नेता फारूक अब्दुल्ला ने एक बार फिर केंद्र सरकार पर निशाना साधा है। फारूक अब्दुल्ला ने कश्मीर में बढ़ती आतंकी घटनाओं को लेकर भी केंद्र पर सवाल उठाये हैं।

फारूक अब्दुल्ला ने बालाकोट स्ट्राइक को लेकर केंद्र सरकार की घेराबंदी करते हुए कहा कि बालाकोट सर्जिकल स्ट्राइक से हमने क्या पाया। क्या लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (एलओसी) थोड़ी बदल गई।

फारूक अब्दुल्ला ने कहा, “बालाकोट! बालाकोट! क्या लाइन (एलओसी) बदल गई? क्या हमें पाकिस्तान से जमीन का कोई टुकड़ा वापस मिला? लाइन अभी भी वही है। हमने वहां अपना विमान गिराया। हमें क्या मिला? बीजेपी फिर सत्ता में आई। वे आज भी यही कर रहे हैं।

फारूक अब्दुल्ला ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए नफरत फैलाने का आरोप लगाते हुए कहा कि भारतीय जनता पार्टी यूपी जीतने के लिए नफरत फैला रही है और यह जम्मू में भी हो रहा है।

गौरतलब है कि 14 फरवरी 2019 को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा के पास सीआरपीएफ काफिले को निशाना बनाकर किए गए बम विस्फोट में 40 जवान शहीद हो गए थे।

ये भी पढ़ें:  वरुण गांधी का सरकार पर निशाना 'पहले तो सरकारी नौकरी ही नहीं है, फिर भी कुछ मौका आए तो..."

पुलवामा की घटना के बाद 26 फरवरी 2019 को भारत ने पाकिस्तान के साथ लगी नियंत्रण रेखा को पार कर बालाकोट में हवाई हमला (सर्जिकल स्ट्राइक) किया था। तब भारत ने कहा था कि जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर किए गए आत्मघाती हमले का बदला लिया।

यहां यह बताना ज़रूरी है कि बालाकोट एयर एयरस्ट्राइक लोकसभा चुनाव से पहले किया गया और चुनावी मंच से बालाकोट एयर स्ट्राइक को मोदी सरकार की बड़ी उपलब्धि के रूप में पेश किया गया था। हालांकि विपक्ष ने इस मामले में मोदी सरकार पर सवाल भी उठाये थे।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें