किसानो ने कंगना का काफिला रोका, नारेबाजी की

नई दिल्ली। बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत को उस समय विपरीत परिस्थिति का सामना करना पड़ा जब पंजाब में आंदोलनकारी किसानो ने कंगना रनौत का काफिला रोक लिया।

घटना पंजाब के रोपड़ की है, जहां कंगना रनौत अपनी फिल्म की शूटिंग के लिए पहुंची थीं। इस दौरान आंदोलनकारी किसानो ने उनका काफिला रोक लिया और नारेबाजी की।

हालांकि मौके पर पहुंची पुलिस ने किसानो को समझा बुझाकर सड़क से हटाया और कंगना के काफिले को सुरक्षित निकाल दिया। इस घटना पर फिल्म अभिनेत्री कंगना रनौत ने अपनी प्रतिक्रिया दी है।

कंगना रनौत ने कहा कि “अगर यहां पर पुलिस ना हो तो यहां पर खुलेआम लिंचिंग हो। इन लोगों पर शर्म आती है।” उन्होंने कहा,”बहुत लोग मेरे नाम पर पॉलिटिक्स खेल रहे हैं और उसी पॉलिटिक्स का ये नतीजा है जो आज हो रहा है।”

कंगना ने इंस्टाग्राम स्टोरी में कहा कि “मैं अभी हिमाचल से निकली हूं क्योंकि मेरी फ्लाइट कैंसिल हो गई थी, यहां पंजाब में आते ही एक मॉब ने मुझे घेर लिया है। वो खुद को किसान कह रहे हैं और मुझपर अटैक कर रहे हैं, गंदी गालियां दी रहे हैं और मुझे जान से मार देने की धमकी दे रहे हैं।”

कंगना ने कहा कि इस देश में इस तरह की मॉब लिंचिंग सरेआम हो रही है, अगर मेरे साथ सिक्युरिटी ना हो तो क्या हालात होंगे यहां पर, यहां की स्थिति अविश्वसनीय है। यहां इतनी सारी पुलिस है फिर भी मेरी गाड़ी को निकलने नहीं दिया जा रहा है. क्या मैं कोई पॉलिटिशन हूं? क्या मैं कोई पार्टी चला रही हूं? यव अविश्वसनीय है।

गौरतलब है कि कंगना रनौत आंदोलनकारी किसानो को लेकर कई बार आपत्तिजनक टिप्पणी कर चुकी हैं। कंगना रनौत की कथित टिप्पणियों को लेकर किसानो में भारी नाराज़गी है। उनकी आपत्तिजनक बयानों के चलते मुंबई और दिल्ली में उनके खिलाफ एफआईआर भी दर्ज कराई गई है।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें