देश बड़ी खबर

Video: भाग रहे दीप सिंधु को किसानो ने पकड़ा, सनी देओल ने भी पल्ला झाड़ा

नई दिल्ली। किसान परेड के दौरान नेतृत्व अपने हाथ में लेकर किसानो को लाल किला ले जाने वाले बीजेपी सांसद सनी देओल के पूर्व चुनाव एजेंट रहे दीप सिंधु ने सिंघु बॉर्डर से भागने की कोशिश की लेकिन उसे किसानो ने धार दबोचा।

दीप सिंधु पर आरोप है कि वह किसान परेड के एक जत्थे को गुमराह करके लाल किले की तरफ ले गया और उसने उत्तजेक नारे लगाकर युवाओं को लाल किले पर सिख झंडा लगाने के लिए उकसाया।

दीप सिंह बीजेपी सांसद सनी देओल का 2019 के लोकसभा चुनाव में एजेंट रह चूका है। हालाँकि सनी देओल ने भी अब दीप सिंधु से अपना पल्ला झाड़ लिया है। सनी देओल ने ट्वीट कर कहा कि मेरा या मेरे परिवार के किसी सदस्य का दीप सिंधु से कोई संबंध नहीं है।

सनी देओल ने ट्वीट कर कहा, “आज लाल क़िले पर जो हुआ उसे देख कर मन बहुत दुखी हुआ है, मैं पहले भी, 6 December को ,Twitter के माध्यम से यह साफ कर चुका हूँ कि मेरा या मेरे परिवार का दीप सिद्धू के साथ कोई संबंध नही है। जय हिन्द”

ये भी पढ़ें:  एक ही महीने में तीसरी बार बढ़ी रसोई गैस की कीमत, कांग्रेस ने फिर सरकार को घेरा

किसान नेता गुरनाम सिंह चढूनी ने कहा कि किसान संगठनों का लाल किले जाने का कोई कार्यक्रम नहीं था, दीप सिंधू ने किसानों को भड़काया और आउटर रिंग रोड से लाल क़िले ले गया,किसान शांतिपूर्ण आंदोलन करते रहेंगे,ये आंदोलन धार्मिक आंदोलन नहीं है।

वहीँ लाल किले पर धार्मिक झंडा फहराने के मामले में वीडियो वायरल होने के बाद किसानो को दीप सिंधु की करतूतों की जानकारी मिली। इसके बाद दीप सिंधु ने अपने एक वीडियो संदेश में कहा कि निशान साहब का झंडा लगाने में कोई बुराई नहीं है। दीप सिंधु ने अपनी सफाई में कहा कि यह अनेकता में एकता का प्रतीक है।

दीप सिंधु जैसे ही सिंधु बॉर्डर वापस पहुंचा, उसने वहां से निकलना ही उचित समझा और वह ट्रेक्टर लेकर पंजाब की तरफ रवाना होने लगा। इस दौरान किसानो ने उसे दबोच लिया।

गौरतलब है कि लाल किले पर मंगलवार को हुई घटना के बाद दीप सिंन्धु की कई तस्वीरें वायरल हुई हैं। इन तस्वीरों में वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, बीजेपी सांसद सनी देओल के अलावा गृह मंत्री अमित शाह के साथ भी दिखाई दे रहा है।

 

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें