देश बड़ी खबर

फारूक अब्दुल्ला से ईडी की पूछताछ, नेशनल कांफ्रेंस ने बताया बदले की कार्रवाही

श्रीनगर। जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला से आज प्रवर्तन निदेशालय के श्रीनगर स्थित ऑफिस में पूछताछ की गई। यह पूछताछ जम्मू कश्मीर क्रिकेट एसोसिएशन के करीब 8 वर्ष पुराने करोड़ों रुपये के गबन से जुड़ा है। इस मामले की जांच अब ईडी कर रहा है।

2012 में जम्मू कश्मीर क्रिकेट एसोसिएशन पर 113 करोड़ रुपये में से 43.69 करोड़ रुपये के गबन की शिकायत की गयी थी। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने अप्रैल 2002 से दिसंबर 2011 के दौरान जम्मू कश्मीर क्रिकेट एसोसिएशन को यह रकम खेल के विकास के लिए भेजी थी लेकिन इसमें से 43.69 करोड़ रुपये का कोई हिसाब नहीं दिया गया।

उस समय एसोसिएशन के अध्यक्ष पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला थे. बाद में 2017 में हाईकोर्ट ने मामले की जांच सीबीआई को सौंप दी थी। उसके बाद मामले को ईडी को सौंप दिया गया। ईडी ने इस मामले में 2019 में भी फारूक अब्दुल्ला से पूछताछ की थी।

इस मामले में फारूक अब्दुल्ला के अलावा उस समय के महासचिव मो. सलीम खान, कोषाध्यक्ष अहमद मिर्जा और जे एंड के बैंक के एक कर्मचारी बशीर अहमद को भी आरोपी बनाया गया है।

ये भी पढ़ें:  कोशिशें रंग लाईं, गैर बीजेपी दलों के गठबंधन में शामिल होने को तैयार हुई गोवा फॉरवर्ड पार्टी

फारूक अब्दुल्ला शुरू से इस मामले से खुद की किसी भी भूमिका से इंकार करते रहे हैं लेकिन इसके बावजूद अब 8 वर्ष बाद प्रबर्तन निदेशालय (ईडी) एक बार फिर इस मामले में उनसे पूछताछ कर है है।

नेशनल कांफ्रेंस ने पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला को ईडी द्वारा पूछताछ के लिए भेजे गए समन पर इसे बदले की कार्रवाही बताया है। पार्टी ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी दबाव बनाने के लिए सरकारी मशीनरी का इस्तेमाल कर रही है।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें