अपराध बड़ी खबर

कोर्ट ने अर्नब को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा

मुंबई। 2018 के अन्वय नाइक और कुमुद नाइक को सुसाइड के लिए उकसाने के मामले में गिरफ्तार किये गए रिपब्लिक टीवी के प्रबंध संपादक अर्णब गोस्वामी को कोर्ट ने 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है।

अर्नब गोस्वामी को बुधवार सुबह उसके घर से मुंबई पुलिस ने गिरफ्तार किया था। इसके बाद अर्नब को अलीबाग की कोर्ट में मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश किया गया था। इस दौरान अर्नब ने मुंबई पुलिस पर मारपीट करने का आरोप लगाया। इस पर इस पर मजिस्ट्रेट ने पुलिस को निर्देश दिया कि वह उसे एक सिविल सर्जन के पास ले जाए और दूसरी मेडिकल जांच के बाद उसे फिर से पेश करे।

शाम को एक बार फिर अर्नब गोस्वामी को मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश किया गया। कोर्ट ने अर्नब को पुलिस हिरासत में देने से इंकार करते हुए उसे14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजने का आदेश दिया। अब अर्नब गोस्वामी 18 नवंबर तक पुलिस हिरासत में रहेगा।

इससे पहले कोर्ट में पेशी के दौरान अर्नब ने अपने मोबाईल का इस्तेमाल का कार्यवाही का वीडियो बनाने की कोशिश की। इस पर कोर्ट ने अर्नब को कड़ी फटकार लगाई।

ये भी पढ़ें:  फडणवीस बोले 'एक दिन कराची भी भारत का हिस्सा होगा', एनसीपी ने पूछा 'बांग्लादेश क्यों नहीं ?'

मुंबई पुलिस ने अर्नब के खिलाफ एक और एफआईआर दर्ज की है। यह एफआईआर मुंबई पुलिस की महिला अधिकारी से बदसलूकी के लिए दर्ज की गई है।

अर्नब पर आरोप है कि बुधवार की सुबह जब उनके निवास पर पुलिस पहुंची तो अर्नब ने कथित तौर पर महिला पुलिस अधिकारी के साथ मारपीट की। गोस्वामी के खिलाफ आईपीसी की धारा 353,504 और 34 के तहत एनएम जोशी पुलिस थाने में मामला दर्ज किया गया है।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें