बड़ी खबर राजनीति

कांग्रेस हाईकमान ने स्वीकार नहीं किया सिद्धू का इस्तीफा, कल सुलझ जायेगा मामला

नई दिल्ली। पंजाब में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू द्वारा अचानक इस्तीफा दिए जाने के बाद गरम हुई राजनीति को विराम देते हुए पार्टी हाईकमान ने सिद्धू का इस्तीफा स्वीकार करने से इंकार कर दिया है।

इस बीच कांग्रेस के दो विधायकों ने नवजोत सिंह सिद्धू से मुलाकात की है। इस मुलाकात के बाद कांग्रेस विधायकों ने दावा किया कि 2-3 मुद्दों पर मतभेद हैं, वो कल सुलझा लिए जायेगे।

वहीँ कांग्रेस सूत्रों के मुताबिक, कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने नवजोत सिंह सिद्धू के इस्तीफे को तुरंत स्वीकार नहीं किया है और प्रदेश कांग्रेस के नेताओं को अपने स्तर पर विवाद हल करने की ज़िम्मेदारी दी है।

सूत्रों के मुताबिक, कांग्रेस विधायक परगट सिंह और अमरिंदर सिंह राजा वारिंग ने नवजोत सिंह सिद्धू से मुलाकात की। दोनों विधायकों ने मुलाक़ात के बाद कहा कि एक-दो छोटे-छोटे मुद्दे हैं, आपस में गलतफ़हमी की वजह से विश्वास टूटा। कोई बड़ी बात नहीं है, कल सारा मसला सुलझ जाएगा।

वहीँ कांग्रेस विधायक सुखपाल सिंह खैरा ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि हम नवजोत सिंह सिद्धू से अनुरोध करेंगे कि वो अपना इस्तीफ़ा वापस लें। इसके साथ ही हम पार्टी हाईकमान से उम्मीद करते हैं कि एक अच्छा नेता हमें पंजाब में मिला है,आप इनकी शिकायतों का निवारण करें।

ये भी पढ़ें:  राजनाथ के बयान पर उद्धव का निशाना: बीजेपी सावरकर और गांधी दोनों को नहीं समझ पाई

गौरतलब है कि पंजाब में नवजोत सिंह सिद्धू द्वारा प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा दिए जाने के बाद राज्य सरकार में केबिनेट मंत्री रज़िया सुल्तान ने भी इस्तीफा दे दिया है। इसके ठीक बाद योगिंदर ढींगरा ने भी पंजाब कांग्रेस के महासचिव पद से इस्तीफ़ा दिया और अब गौतम सेठ ने पंजाब कांग्रेस के महासचिव (प्रभारी प्रशिक्षण) के पद से इस्तीफा दे दिया है।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें