चुनाव बड़ी खबर

कांग्रेस का दावा: यूपी में कांग्रेस का सीधा मुकाबला बीजेपी से, सपा-बसपा दौड़ में नहीं

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश में अगले वर्ष होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर कांग्रेस का दावा है कि राज्य में कांग्रेस और बीजेपी का सीधा मुकाबला होगा तथा समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी दौड़ से बाहर हो चुके हैं।

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस के प्रचार अभियान समिति के नवनियुक्त प्रमुख पीएल पुनिया ने रविवार को यह एलान किया। उन्‍होंने कहा कि प्रियंका अभी राज्य में सबसे लोकप्रिय राजनीतिक शख्सियत हैं। उन्होंने यह दावा भी किया कि यूपी चुनाव में ह कांग्रेस और भाजपा के बीच सीधा मुकाबला है क्योंकि समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी दोनों ही “पीछे रह गई हैं” और “अब रेस में नहीं हैं”।

पुनिया ने कहा कि प्रियंका गांधी उत्तर प्रदेश में जनता की आवाज़ बनकर उभरी है। प्रियंका गांधी सभी मुद्दों पर सच के लिए लड़ी हैं और जब लखीमपुर खीरी की घटना हुई तो वह तुरंत पीड़ितों के परिवार से मिलने के लिए रवाना हो गईं।

पूनिया ने कहा कि चाहे सोनभद्र की घटना हो, उन्नाव या हाथरस की घटनाएं हों, प्रियंका गांधी ने न्याय के लिए लड़ाई लड़ी है। इसलिए लोग और अभी पूरा राज्य उनसे प्रभावित है, कोई भी नेता प्रियंका गांधी से ज्यादा लोकप्रिय नहीं है।

ये भी पढ़ें:  किसान आंदोलन खत्म होने की अफवाहों पर राकेश टिकैत बोले, 'एमएसपी के बिना घर वापसी नहीं'

कांग्रेस नेता ने कहा कि हम सौभाग्यशाली हैं कि प्रियंका गांधी चुनाव प्रचार के लिए हर समय उपलब्ध हैं। उन्होंने कहा कि प्रियंका गांधी को चुनाव प्रचार के लिए बुलाये जाने की मांग अन्य राज्यों से भी आती रहती है कि प्रियंका गांधी आएं और एक या दो सभाएं करें, लेकिन यूपी में वह 24 घंटे उपलब्ध हैं।

पुनिया ने बीजेपी पर समाज को हिन्दू मुस्लिम में बांटने और धर्म व जाति के नाम पर ध्रुवीकरण के प्रयास का आरोप लगाते हुए कहा किसानों की ‘दुर्दशा’, महंगाई और कानून और व्यवस्था की स्थिति जैसे असल मुद्दों से ध्यान भटकाने के लिए बीजेपी सांप्रदायिक ध्रुवीकरण का प्रयास कर रही है।

उन्होंने कहा कि वे मंदिर का निर्माण करते हैं, हिंदू-मुस्लिमों को बांटते हैं, अपने आप को हिंदुओं का इकलौता शुभचिंतक पेश करते हैं। वे यह सब प्रयास करेंगे लेकिन यह पुरानी रणनीति हो गई है, लोग महंगाई और विकास जैसे मुद्दों को लेकर चिंतित हैं तथा वे योगी आदित्यनाथ के ध्रुवीकरण के झांसे में नहीं फंसेंगे।

यह पूछने पर कि क्या विपक्षी एकता न होने से वोटों का बंटवारा होगा, इस पर पुनिया ने कहा कि सपा और बसपा पीछे रह गए हैं। उन्होंने कहा कि पहले लोग सोच रहे थे कि वे मुकाबले में हैं लेकिन अब नहीं। कांग्रेस मुकाबले में है और केवल कांग्रेस ही भाजपा को पछाड़ सकती है। कांग्रेस और भाजपा के बीच सीधा मुकाबला है।

ये भी पढ़ें:  शीतकालीन सत्र से पहले सरकार ने बुलाई सर्वदलीय बैठक

पुनिया ने दावा किया कि BJP, कांग्रेस से ‘‘डरी’’ हुई है और इसलिए उसके नेतृत्व ने कांग्रेस पर हमला किया, न कि सपा और बसपा पर। यह पूछे जाने पर कि क्या अभी तक मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार के नाम की घोषणा न करने से उत्तर प्रदेश चुनावों में कांग्रेस की संभावनाओं पर असर पड़ेगा, इस पर उन्होंने कहा कि कांग्रेस विरले ही मुख्यमंत्री पद के चेहरे की घोषणा करती है चाहे वह उत्तर प्रदेश हो या कोई और राज्य हो।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें