बड़ी खबर राजनीति

घोटालेबाज़ों के क़र्ज़ माफ़ किये जाने को लेकर कांग्रेस ने मोदी सरकार से पूछे 5 सवाल

नई दिल्ली। बैंक डिफॉलटरो के क़र्ज़ माफ़ किये जाने के मामले में कांग्रेस ने एक बार फिर मोदी सरकार पर हमला बोला है। इस मामले में कांग्रेस ने मोदी सरकार से पांच सवाल भी पूछे हैं।

कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट कर कहा कि ‘तू इधर उधर की बात न कर, ये बता कि काफिला क्यों लुटा’। सुरजेवाला ने कहा कि देश को भटकाने की बजाय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण जी को सत्य बताना चाहिए क्योंकि यही राज धर्म की कसौटी है।

1. मोदी सरकार ने 2014-15 से 2019-20 के बीच डिफॉल्टरों का 6,66,000 करोड़ कर्ज क्यों राइट ऑफ़ किया?

2. क्या 50 डिफॉल्टरों का 68,607 CR कर्ज़ माफ करने का RBI का RTI जबाब सही है?

3. मोदी सरकार देश का पैसा ले कर भाग गए घोटालेबाज़ों- नीरव मोदी+मेहुल चोकसी (8,048 CR), जतिन मेहता (6,038 CR), विजय माल्या(1,943 CR) – व अन्य मित्रों का क़र्ज़ क्यों राइट ऑफ़ कर रही है?

4. इतना बड़े 6,66,000 CR के बैंक क़र्ज़ राइट ऑफ़ की अनुमति सरकार में किसने दी और क्यों?

ये भी पढ़ें:  संजय राउत बोले, "सुप्रीमकोर्ट राष्ट्रीय समिति गठित करे नहीं देश में रह जायेगा मुर्दो का राज"

5. निर्मला जी, 6,66,000 के क़र्ज़ राइट ऑफ़ को “सिस्टम की सफ़ाई” नहीं, बैंक में जमा “जनता की गाढ़ी कमाई की सफ़ाई” कहते हैं.

इससे पहले मंगलवार को पार्टी ने दावा किया कि सूचना का अधिकार आरटीआई के तहत मांगी गई जानकारी में रिज़र्व बैंक ने स्वीकार किया है कि बैंको को चूना लगाने वाले विजय माल्या, मेहुल चौकसी और नीरव मोदी सहित पचास कारोबारियों का 68,607 करोड़ रुपये माफ किया गया है।

पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने यह मामला उठाते हुए केंद्र सरकार पर सीधा हमला बोला है। उन्होंने कहा कि कुछ सप्ताह पहले संसद में उनके सवाल का जवाब न देकर इसी सच को छिपाया गया था। उन्होंने ट्वीट कर कहा, ‘संसद में मैंने एक सीधा सा प्रश्न पूछा था- मुझे देश के 50 सबसे बड़े बैंक चोरों के नाम बताइए। वित्त मंत्री ने जवाब नहीं दिया।’

राहुल गांधी ने कहा कि ‘अब RBI ने नीरव मोदी, मेहुल चोकसी सहित भाजपा के ‘मित्रों’ के नाम बैंक चोरों की लिस्ट में डाले हैं। इसीलिए संसद में इस सच को छुपाया गया।’

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें