बड़ी खबर राजनीति

ममता के घोर विरोधी अधीर रंजन चौधरी बनाये गए पश्चिम बंगाल के कांग्रेस अध्यक्ष

नई दिल्ली। लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी को पश्चिम बंगाल कांग्रेस का अध्यक्ष बनाया गया है। अधीर रंजन चौधरी पहले भी फरवरी, 2014 से सितंबर, 2018 तक प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष रह चुके हैं।

अधीर रंजन चौधरी पश्चिम बंगाल के अध्यक्ष सोमेन मित्रा की जगह लेंगे। सोमेन मित्रा का हाल ही में निधन हो गया था। बहरामपुर से लोकसभा सदस्य चौधरी अधीर रंजन चौधरी को तेज तर्रार नेता माना जाता है।

चौधरी को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का घोर विरोधी माना जाता है। पिछले विधानसभा चुनाव में अधीर रंजन चौधरी के विरोध के बाद पार्टी हाईकमान ने ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल कांग्रेस के स्थान पर सीपीएम से गठबंधन किया था।

अधीर रंजन चौधरी को पश्चिम बंगाल का अध्यक्ष नियुक्त किये जाने को बंगाल में अगले वर्ष होने वाले विधानसभा चुनाव से जोड़कर देखा जा रहा है।

यह भी कहा जा रहा है कि अधीर रंजन चौधरी को पार्टी हाईकमान ने पश्चिम बंगाल अध्यक्ष बनाये जाने का प्रस्ताव कुछ महीने पहले दिया था लेकिन उन्होंने इस पद को दोबारा स्वीकार करने से इंकार कर दिया था। अहम वजह थी कि राहुल गांधी को कांग्रेस अध्यक्ष बनाये जाने के बाद अधीर रंजन चौधरी को पश्चिम बंगाल प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष पद से हटाकर उनकी जगह सोमेन मित्रा को अध्यक्ष बना दिया गया था। जिसकी वजह से अधीर रंजन चौधरी नाराज़ थे।

पार्टी के संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल की ओर से जारी बयान के मुताबिक, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने चौधरी को पश्चिम बंगाल प्रदेश कांग्रेस कमेटी (पीसीसी) का अध्यक्ष तत्काल प्रभाव से नियुक्त किया।

अधीर रंजन चौधरी को पश्चिम बंगाल कांग्रेस की कमान दिए जाने से एक बात स्पष्ट है कि 2021 में पश्चिम बंगाल में होने वाले विधानसभा चुनाव में कांग्रेस तृणमूल कांग्रेस से गठबंधन नहीं करेगी।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें