बड़ी खबर ब्लॉग

अज़ीज़म मोहम्मद शिकेब अकरम को ख़िराज-ए-अक़ीदत

तहरीर : इमरान राक़िम और डॉ. मुज़फ्फ़र नाज़नीन, कोलकता सूबा बिहार के मशहूर आलिम-ए-दीन हज़रत मौलाना अब्दुस्समद (रह.) और मुहतरमा अतीक़ा ख़ातून के साहबज़ादे मोहम्मद ख़ुर्शीद अकरम सोज़ से हमलोगों का गहरा क़लबी ताल्लुक़ है , उन्होंने हमलोगों को हमेशा अपने भाई जैसी मुहब्बत दी है और उनकी अहलिया मुहतरमा नुज़हत जहाँ क़ैसर भी ख़ुलूस […]

बड़ी खबर ब्लॉग

देश के मौजूदा हालातो पर फरहा ग़नी का लेख “चुप्पी तोड़कर न बोला जाए तो अन्याय होगा”

ब्यूरो(फीचर डेस्क)। आज जो हालात बनते जा रहे हैं, उनको नज़र में रखकर बोलना अब बेहद ज़रूरी हो गया हैं। चुप्पी तोड़कर न बोला जाए तो अन्याय होगा। अस्पतालों से लगातार आ रही लीक वीडियोज को देखकर पता चलता है कि एक तरफ़ डॉक्टरों पर लोगो का गुस्सा फूट रहा है, वही दूसरी तरफ़ लोगो […]

बड़ी खबर ब्लॉग

रमा शर्मा का लेख: रूढ़िवादी प्रथा छीन रही है महिलाओं का अधिकार

नई दिल्ली(फीचर डेस्क)। राजस्थान के इतिहास में बालिकाओं व महिलाओं को लेकर राजा महाराजाओं के समय से ही कई प्रथाएं और परम्पराएं चली आ रही हैं। जो कहीं उनके अधिकारों को बचाती है, तो कई उनके अधिकारों का हनन भी करती है। इन्हीं में एक नाता प्रथा भी है। कहने को यह प्रथा महिलाओं को […]

बड़ी खबर ब्लॉग

कुपोषण मिटाने के लिए महिलाओं ने पथरीली ज़मीन को बनाया उपजाऊ

ब्यूरो (रूबी सरकार, भोपाल)। ग्लोबल हंगर इंडेक्स 2020 के अनुसार भारत में कुपोषण की स्थिति 107 देषों में से 94 स्थान पर है। भारत के संदर्भ में यह डराने वाला आंकड़ा हैं, क्योंकि भारत अपने पड़ोसी देशों नेपाल, बांग्लादेश, पाकिस्तान और इंडोनेशिया से भी पीछे है। रिपोर्ट के अनुसार भारत में 14 फीसदी लोग कुपोषण […]

बड़ी खबर ब्लॉग

कोरोना संकट से फिर लग सकता है शिक्षा पर ग्रहण

नई दिल्ली (फ़ीचर डेस्क)। देश में अर्थव्यवस्था और शिक्षा, दो ऐसे महत्वपूर्ण सेक्टर हैं जिसे कोरोना संकट का सबसे अधिक दंश झेलना पड़ा है। हालात सामान्य होने पर अर्थव्यवस्था जहां पटरी पर लौटने लगी थी, वहीं स्कूल कॉलेज खुलने से भी ऐसा लग रहा था कि शिक्षा व्यवस्था फिर से मज़बूत होगी। लेकिन संकट अभी […]

बड़ी खबर ब्लॉग

महिला दिवस पर विशेष: गांव तक महिला सशक्तिकरण को मज़बूत करने की ज़रूरत

ब्यूरो (नरेंद्र सिंह बिष्ट,नैनीताल, उत्तराखण्ड)। दहेज़ के लिए मानसिक रूप से प्रताड़ित होने के बाद अहमदाबाद की आयशा द्वारा आत्महत्या ने जहां पूरे देश को झकझोर कर रख दिया है, वहीं यह सवाल भी उठने लगा है कि हम जिस महिला सशक्तिकरण की बात करते हैं, वास्तव में वह धरातल पर कितना सार्थक हो रहा […]

बड़ी खबर ब्लॉग

रोज़गार की ख़ातिर फिर पलायन को मजबूर

ब्यूरो: लीलाधर निर्मलकर (भानुप्रतापपुर, छत्तीसगढ़)। कोरोना संकट में पहले लाॅकडाउन और फिर हुए अनलाॅक के बाद से देश की अर्थव्यवस्था धीरे-धीरे पटरी पर लौटने लगी है। शहरों के साथ-साथ देश के ग्रामीण इलाकों में भी लोग पुरानी दिनचर्या में वापस लौट आए हैं। लेकिन इन सब में सबसे अधिक मज़दूर तबका ही ऐसा प्रभावित हुआ […]

बड़ी खबर ब्लॉग

भारत में जलवायु परिवर्तन इस वजह से नहीं बन रहा एक सियासी मुद्दा!

नई दिल्ली (निशान्त)। कभी सोचा है कोई मुद्दा सियासी कब बनता है? बात आगे बढे उससे पहले ज़रा समझ लेते हैं कि सियासत या राजनीति का मतलब होता क्या है और आख़िर मुद्दा किसे कहते हैं। तो जनाब ऐसा है कि जब किसी बात से सत्ता हासिल की जाये और फिर उस सत्ता का इस्तमाल […]

बड़ी खबर ब्लॉग

महिलाओं के लिए शर्म नहीं, शक्ति का प्रतीक है माहवारी

ब्यूरो (सौम्या ज्योत्स्ना,मुज़फ़्फ़रपुर, बिहार)। देश में किशोरी एवं महिला स्वास्थ्य के क्षेत्र में पिछले कुछ वर्षों में काफी सुधार आया है। केंद्र से लेकर राज्य की सरकारों द्वारा इस क्षेत्र में लगातार सकारात्मक कदम उठाने का परिणाम है कि एक तरफ जहां उनके स्वास्थ्य के स्तर में सुधार आया है, वहीं शिक्षा के क्षेत्र में […]

बड़ी खबर ब्लॉग

क्या टल सकती थी चमोली में ग्लेशियर फटने से हुई तबाही?

नई दिल्ली (फीचर डेस्क ) : रविवार को उत्तराखंड के चमोली जिले में नंदादेवी ग्लेशियर के एक हिस्से के टूटने से हुई भारी तबाही क्या टल सकती थी? अगर 2019 में प्रकाशित एक अध्ययन में दी गयी चेतावनी पर ध्यान दिया गया होता तो अगर ये आपदा टल नहीं सकती थी, तो कम से कम […]

बड़ी खबर ब्लॉग

आपबीती: कोविड –19 से मेरा सामना

ब्यूरो (मोहम्मद ख़ुर्शीद अकरम सोज़)। कोरोना वायरस का संक्रमण दिसंबर 2019 में चीन के वुहान में शुरू हुआ और रफ़्ता-रफ़्ता सारी दुनिया में फैल गया, फिर WHO ने इसे महामारी घोषित कर दिया और कोरोना वायरस के संक्रमण से होने वाली बीमारी को COVID-19 का नाम दिया (COVID-19 is the disease responsible for the virus […]

ब्लॉग

आखिर मिल ही गया बजट में पर्यावरण को एक मौका!

नई दिल्ली(फीचर डेस्क)। कोरोना महामारी के प्रकोप के बाद, कल भारत सरकार का पहला बजट घोषित हुआ। ज़ाहिर है, बजट से ख़ासी उम्मीदें थीं और कुछ बड़े फैसलों का इंतजार भी था। पर्यावरण संरक्षण और जलवायु परिवर्तन से लड़ाई की नज़र से देखें, तो इंतज़ार था एक ऐसे बजट का जिसमें इन विषयों को प्राथमिकता […]

बड़ी खबर ब्लॉग

बीहड़ में स्त्री स्वाभिमान की जागरूकता

नई दिल्ली (फीचर डेस्क)। भारतीय समाज में आज भी बड़ी संख्या में महिलाएं पीरियड्स को लेकर कई मिथकों और संकोचों में अपना जीवन गुजार रही हैं। ’पीरियड्स’ महिलाओं की जिंदगी से जुड़ा एक अहम विषय है, जिस पर खुलकर बात नहीं होती है। देश के बड़े शहरों में हालात जरूर थोड़े बदले हैं, लेकिन गांव […]

बड़ी खबर ब्लॉग

कोविड को लेकर आज ही के दिन बदल गयी थी हमारी सोच

नई दिल्ली (फीचर डेस्क)। आज से ठीक एक साल पहले, 23 जनवरी 2020 को, चीन ने जब वुहान शहर में तालाबंदी लागू की थी, तब शायद पहली बार पूरी दुनिया ने कोविड को एक महामारी की शक्ल में संजीदगी से लिया था। साल भर बाद आज कोविड-19 न सिर्फ पूरी दुनिया में ज़बरदस्त नुकसान पहुंचा […]

बड़ी खबर ब्लॉग

विचार: इस ऑनलाइन डैशबोर्ड से मिलेगा “वायु प्रदूषण नियंत्रण” के प्रयासों को बल

ब्यूरो। हर साल की तरह इस वर्ष भी सर्दियों के जोर पकड़ने के साथ ही देश के अनेक शहरों में प्रदूषण का स्तर फिर लगातार खराब होता जा रहा है। ऐसे में प्रदूषण के स्रोतों पर नियंत्रण करने के लिए उपाय तलाशना और प्रदूषण संबंधी डाटा के विश्लेषण से मिल रहे नतीजों को वास्तविक अर्थों […]

बड़ी खबर ब्लॉग

दुनिया के सबसे बड़े बैंक कर रहे हैं प्लास्टिक प्रदूषण का वित्त पोषण

नई दिल्ली(फीचर डेस्क)। हाल ही में जारी बैंकरोलिंग प्लास्टिक्स रिपोर्ट से पता चलता है कि दुनिया के सबसे बड़े बैंक प्लास्टिक प्रदूषण के संकट के लिए सह-जिम्मेदार हैं, और अपने ग्राहकों की नाराजगी को अनदेखा कर रहें हैं। यह पहली बार है जब वैश्विक बैंकों द्वारा प्लास्टिक आपूर्ति श्रृंखला को प्रदान किए गए ऋणों की […]

बड़ी खबर ब्लॉग

मानव इतिहास का सबसे गर्म साल था 2020

नई दिल्ली(फीचर डेस्क)। फ़िलहाल मानव इतिहास में अब तक का सबसे गर्म साल 2016 को माना जाता था। लेकिन अब, 2020 को भी अब तक का सबसे गर्म साल कहा जायेगा। दरअसल यूरोपीय संघ के पृथ्वी अवलोकन कार्यक्रम (अर्त ऑब्ज़र्वेशन प्रोग्राम), कोपरनिकस क्लाइमेट चेंज सर्विस ने घोषणा कर दी है कि ला-नीना, एक आवर्ती मौसम […]

बड़ी खबर ब्लॉग

सौम्या ज्योत्स्ना का लेख: स्तन कैंसर के खतरे से अनजान हैं ग्रामीण महिलाएं

ब्यूरो (सौम्या ज्योत्स्ना, मुज़फ़्फ़रपुर, बिहार)। बिहार के एक ग्रामीण इलाके की रहने वाली कुसुमलता (बदला हुआ नाम) को स्तन कैंसर के कारण अपने स्तन हटवाने पड़े थे, क्योंकि उसकी जान पर बन आई थी। इस प्रक्रिया से उसकी ज़िंदगी तो बच गई लेकिन उसका जीवन और भी नरकीय हो गया। स्तनों के हटने के बाद […]

बड़ी खबर ब्लॉग

बसंत पांडे का लेख: खुद बीमार है उत्तराखंड की स्वास्थ्य व्यवस्था

ब्यूरो (बसंत पांडे, बागेश्वर, उत्तराखंड)। उत्तराखंड में स्वास्थ्य सेवाएं पटरी से उतर चुकी हैं। खास तौर से भौगोलिक विषमताओं वाले यहां के पर्वतीय क्षेत्रों में मातृ एवं शिशुओं की देखभाल के सरकारी इंतजाम अति दयनीय दशा में हैं। पहाड़ के दुर्गम क्षेत्रों के हालात और भी ज़्यादा खराब हैं। यहां के प्राथमिक चिकित्सा केन्द्र स्वयं […]

बड़ी खबर ब्लॉग

लान्सेट काउंटडाउन की पांचवीं वार्षिक रिपोर्ट का दावा: कोविड तो बस झांकी है, पिक्चर अभी बाकी है

नई दिल्ली। जन स्‍वास्‍थ्‍य पर जलवायु परिवर्तन के प्रभावों को रेखांकित कर अब तक की सबसे चिंताजनक तस्‍वीर पेश करती लान्सेट काउंटडाउन की पांचवीं वार्षिक रिपोर्ट के प्रमुख रुझान बेहद बुरी स्थिति की तरफ इशारा करते हैं। स्‍वास्‍थ्‍य एवं जलवायु परिवर्तन के बीच सम्‍बन्‍धों पर आधारित 40 से ज्‍यादा संकेतकों पर पड़ताल करती यह रिपोर्ट […]

बड़ी खबर ब्लॉग

शिवराज की छवि बदलने की कवायद

ब्यूरो (जावेद अनीस)। शिवराजसिंह चौहान भाजपा के नरमपंथी नेता माने जाते रहे हैं. लेकिन अब ऐसा लगता है कि नरम हिन्दुतत्व को उन्होंने कांग्रेस के भरोसे छोड़ दिया है. चौथी बार मुख्यमंत्री बन्ने के बाद उनका मिजाज बदला हुआ है, वे अपने आपको पहले से अलग पेश करने की कोशिश कर रहे हैं. तमाम तिकड़मों […]