उत्तर प्रदेश बड़ी खबर राज्य

उत्तर प्रदेश में चुनाव से पहले मंत्रिमंडल विस्तार, 7 नए मंत्री बनाये गए

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में अगले वर्ष होने वाले विधानसभा चुनाव से कुछ महीने पहले मंत्रिमंडल का विस्तार कर 7 नए मंत्री बनाये गए हैं। इनमे कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में शामिल हुए जितिन प्रसाद का नाम भी शामिल है। उन्हें केबिनेट मंत्री बनाया गया है।

उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने सभी नए मंत्रियों को शपथ ग्रहण कराई। शपथ लेने वाले नए चेहरों में जितिन प्रसाद के अलावा छत्रपाल सिंह गंगवार, पलटू राम, संगीता बलवंत, संजीव कुमार, दिनेश खटीक और धर्मवीर सिंह भी शामिल हैं।

इससे पहले रविवार को ही जितिन प्रसाद, संजय कुमार निषाद, चौधरी वीरेंद्र सिंह और राम गोपाल को विधानपरिषद के लिए नामित किया गया। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा एवं उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विधानपरिषद के लिए नामित सभी सदस्यों और शपथ ग्रहण करने वाले नए मंत्रियों को शुभकामनायें दी हैं।

जे पी नड्डा ने कहा, “उत्तर प्रदेश में मंत्री पद की शपथ लेने वाले सदस्यों को बहुत शुभकामनाएँ। मुझे विश्वास है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शन में आप सब मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ दृढता से काम करेंगे और जनता की आकांक्षाओं को पूरा करेंगे।”

ये भी पढ़ें:  कश्मीर में आतंकवाद: शिवसेना का मोदी सरकार पर हमला, कहा 'कोरी धमकियों से नहीं चलेगा काम'

माना जा रहा है कि उत्तर प्रदेश में अगले वर्ष होने वाले विधानसभा चुनावो को ध्यान में रखकर ही मंत्रिमंडल विस्तार कर जातिगत समीकरण साधने की कोशिश की गई है। नए मंत्रियों में जितिन प्रसाद ब्राह्मण समुदाय से आते हैं, वे उत्तर प्रदेश की धौरहरा लोकसभा सीट से 2 बार सांसद व यूपीए 1 और 2 में राज्यमंत्री रहे हैं।

वहीँ छत्रपाल सिंह गंगवार ने बरेली की बहेड़ी सीट से विधायक हैं। वे ओबीसी वर्ग से हैं। गाजीपुर जिले की सदर सीट से विधायक संगीता बलवंत बिंद पिछड़ी जाति बिंद समाज से आती हैं। वहीँ दिनेश खटीक मेरठ के हस्तिनापुर से विधायक हैं। तथा पलटू राम ने अनुसूचित जाति के नेता हैं। दोनों ही अनुसूचित जाति से आते हैं।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें