बड़ी खबर मनोरंजन

मशहूर कोरियोग्राफर सरोज खान का निधन, शोक में डूबा बॉलीवुड

मुंबई। जानी मानी कोरियोग्राफर सरोज खान का मुंबई में निधन हो गया है। वे 71 साल की थीं। सरोज खान को सांस लेने में दिक्क्त के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

सरोज खान का हाल ही में कोरोना टेस्ट भी कराया गया था लेकिन उनकी रिपोर्ट नेगेटिव आई है। डॉक्टरो के मुताबिक सरोज खान की मौत दिल का दौड़ा पड़ने से हुई है। कोरियोग्राफर सरोज खान गंभीर मधुमेह और संबंधित बीमारी से पीड़ित थीं।

सरोज ने महज 3 साल की उम्र में बतौर चाइल्ड आर्टिस्ट फिल्मों में काम करना शुरू कर दिया था। उनकी पहली फिल्म नजराना थी, जिसमें उन्होंने श्यामा नाम की बच्ची का किरदार निभाया था। उन्होंने आखिरी बार 2019 में करण जौहर के प्रोडक्शन कलंक के गाने तबाह हो गई में माधुरी दीक्षित को कोरियोग्राफ किया था।

22 नवंबर 1948 को जन्मीं सरोज खान ने शाहरुख़ खान, सलमान खान,संजय दत्त, माधुरी दीक्षित, ऐश्वर्या राय, करीना कपूर, अक्षय कुमार, श्रीदेवी, रवीना टंडन, गोविंदा जैसे बड़े अभिनेता अभिनेत्रियों से जुडी बॉलीवुड की कई बड़ी फिल्मो के लिए डांस डायरेक्टर का काम किया। उन्हें तीन बार बेस्ट कोरियोग्राफी के लिए राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार भी दिया जा चुका है। सरोज खान ने कुछ फिल्मों में बतौर राइटर भी काम किया है। उनके निधन पर बॉलीवुड की तमाम बड़ी हस्तियों ने दुःख व्यक्त किया है।

बॉलीवुड के शहंशाह कहे जाने वाले अमिताभ बच्चन ने ट्वीट कर कहा कि सरोज खान के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए महानायक अमिताभ बच्चन ने ट्वीट किया है ‘हाथ जुड़े हैं मन अशांत’

सरोज खान के निधन पर फिल्म अभिनेता अनुपम खेर ने ट्वीट कर कहा कि ‘डान्स की मल्लिका सरोज खान जी अलविदा. आपने कलाकारों को ही नहीं बल्कि पूरे हिन्दुस्तान को बहुत ख़ूबसूरती से सिखाया कि “इन्सान शरीर से नहीं, दिल और आत्मा से नाचता है।’ आपके जाने से नृत्य की एक लय डगमगा जाएगी। मैं पर्सनली ना सिर्फ़ आपको बल्कि आपकी मीठी डांट को भी बहुत मिस करूंगा।’

फिल्म अभिनेता अक्षय कुमार ने ट्वीट कर कहा कि ‘इस बुरी खबर के साथ जागा हूं कि कोरियोग्राफर सरोज ख़ान जी नहीं रहीं। उन्होंने डांस को बहुत आसान बना दिया जैसे कोई भी डांस करत सकता है। इंडस्ट्री को एक बड़ा नुकसान। भगवान उनकी आत्मा को शांति दे।’

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें