बड़ी खबर मध्यप्रदेश राज्य

CAA के खिलाफ खुलकर सामने आये बीजेपी विधायक ने कहा ‘धर्म के आधार पर मत बांटो’

भोपाल ब्यूरो। नागरिकता कानून (सीएए) को लेकर भले ही बीजेपी के शीर्ष नेता इसे धर्म के आधार पर नकार रहे हों लेकिन मध्य प्रदेश के बीजेपी विधायक ने पार्टी लाइन से अलग राय रखते हुए कहा कि देश को धर्म के आधार पर बांटने की कोशिश नहीं होनी चाहिए।

बीजेपी विधायक नारायण त्रिपाठी ने न्यूज़ 18 से बात करते हुए कहा कि “ये मेरे दिल की आवाज़ है कि धर्म के आधार पर देश को नहीं बांटो।” बीजेपी विधायक ने नागरिकता कानून पर विरोध जताते हुए कहा कि आज लोग गांव में एक दूसरे की तरफ देख तक नहीं रहे हैं। हम वसुधैव कुटुम्बकम् की बात करते हैं लेकिन धर्म के नाम पर बंटवारा किया जा रहा है, ये गलत है।

नारायण त्रिपाठी ने कहा कि या तो आप संविधान के साथ हैं या विरोध में हैं और यदि संविधान के हिसाब से नहीं चलना है तो उसे फाड़कर फेंक देना चाहिए। उन्होंने कहा कि मैं गांव से आता हूं और गांव में आज आधार कार्ड नहीं बन रहे तो बाकी कागज़ कहां से लाएंगे।

गौरतलब है कि बीजेपी विधायक नारायण त्रिपाठी पहले भी पार्टी लाइन से अलग हटकर काम कर चुके हैं। अब से कुछ महीने पहले ही मध्य प्रदेश विधानसभा में पारित दंड विधान संशोधन विधेयक पर उन्होंने कांग्रेस सरकार के पक्ष में वोटिंग की थी।

वहीँ दूसरी तरफ नागरिकता कानून के खिलाफ देशभर में विरोध प्रदर्शनों का दौर जारी है। नागरिकता कानून को लेकर सरकार अपने कदम वापस खींचने को तैयार नहीं है। गृहमंत्री अमित शाह लगातार कहते आ रहे हैं कि नागरिकता कानून को लागू करने से सरकार एक इंच पीछे नहीं हटेगी।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें