बड़ी खबर राजनीति

असम में बीजेपी की हार लिखी जा चुकी है: एआईयूडीएफ

गुवाहटी। असम आज दूसरे चरण के चुनाव के लिए आज 39 सीटों पर मतदान जारी है। अभी तक मिली जानकारी के मुताबिक मतदान शांतिपूर्वक चल रहा है और कहीं से किसी तरह की घटना की खबर नहीं है। चुनाव आयोग के मुताबिक दोपहर तीन बजे तक 62.98 फीसदी मतदान हुआ है।

आज दूसरे चरण के मतदान के बीच भी बीजेपी और कांग्रेस में आरोप प्रत्यारोप का दौर जारी रहा। असम में चुनावी दौरे पर पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक चुनावी सभा में कहा कि कांग्रेस के लंबे शासन ने असम को बम, बंदूक और ब्लॉकेड में झोंक दिया था। एनडीए ने असम को ​शांति और सम्मान की सौगात दी है।

उन्होंने आरोप लगाया कि हम सभी ने असम की ये शांति बहुत मुश्किल से हासिल की है, इसे किसी भी हालत में कांग्रेस और उसके साथियों के हाथों लुटने नहीं देना है। कोकराझार, BTR सहित पूरे असम के विकास से कांग्रेस का कोई सरोकार नहीं है, इनको सिर्फ अपनी जेब​ भरने से, असम की संस्कृति को तबाह करने से मतलब है।

ये भी पढ़ें:  सिब्बल बोले, 'अपनी लापरवाहियों के लिए देश से माफ़ी मांगें पीएम मोदी'

पीएम मोदी ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि ऐसी कोई जनजाति नहीं जिससे कांग्रेस ने विश्वासघात नहीं किया, वहीं एनडीए सरकार सभी जातियों के हित में कदम उठा रही है। इसके लिए नई डेवलपमेंट काउंसिल बनाने का काम यहां तेज़ी से चल रहा है।

वहीँ बीजेपी के दावों और आरोपों पर आल इंडिया यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट (एआईयूडीएफ) के अध्यक्ष बदरुद्दीन अजमल ने दावा किया कि असम में बीजेपी की हार लिखी जा चुकी है। उन्होंने कहा कि पहले चरण के चुनाव में ही बीजेपी हार तय हो गई थी।

बदरुद्दीन अजमल ने कहा कि पहले चरण में हमारी 30-32 सीटें आ रही हैं और ये हमारा क्षेत्र है तो दूसरे चरण में इसमें बीजेपी के आगे बढ़ने का सवाल ही पैदा नहीं होता। हमारे महागठबंधन की सरकार बनेगी। ये(BJP) बांग्लादेशियों को लाते हैं, हम बंग्लादेशियों को लाने वाले नहीं, भगाने वाले हैं।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें