बिहार-झारखंड राज्य

बिहार बीजेपी में असंतोष, दो विधायको, 4 पूर्व विधायकों और एक पूर्व सांसद पर कार्यवाही

पटना ब्यूरो। बिहार में विधानसभा चुनाव को लेकर बीजेपी में बड़ा असंतोष खुलकर सामने आ गया है। बीजेपी के दो विधायकों तथा उनमें चार पूर्व विधायक और एक पूर्व सांसद सहित कई अन्य बीजेपी नेताओं के बगावती तेवर देखते हुए पार्टी को उन पर कार्रवाही करनी पड़ी है।

बिहार विधानसभा चुनाव में बीजेपी के दो विधायकों के टिकिट कटने के बाद वे निर्दलीय के तौर पर बीजेपी उम्मीदवार के खिलाफ चुनाव लड़ रहे हैं। पार्टी ने उन्हें समझाकर पर्चा वापस लेने के लिए प्रयास किये लेकिन उन्होंने पर्चा वापस नहीं लिया।

दो विधायकों के अलावा अन्य भी कई बीजेपी नेताओं ने पार्टी से बगावत करके चुनाव मैदान में हैं। इस पर राज्य बीजेपी ने कार्रवाही करते हुए 7 नेताओं को बाहर का रास्ता दिखाया है।

बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल ने बागी नेताओं के खिलाफ कार्रवाही करते हुए उन्हें पार्टी से 6 वर्ष के लिए निलंबित कर दिया है। जानकारों की माने तो बिहार कोई दस सीटों पर बीजेपी को बागियों से जूझना पड़ रहा है।

बीजेपी के खिलाफ बगावत करने वालो में रक्सौल से विधायक अजय कुमार सिंह और बगहा के विधायक आर.एस पांडेय, सुपौल से पूर्व सांसद विश्वमोहन कुमार, सुपौल के पूर्व विधायक किशोर कुमार मुन्ना, सुगौली के पूर्व विधायक विजय गुप्ता, कसबा के पूर्व विधायक प्रदीप दास और बरारी के पूर्व विधायक विभास चंद्र चौधरी शामिल हैं।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
ये भी पढ़ें:  रिकाउंटिंग के लिए आज हाईकोर्ट में याचिका दायर करेंगे महागठबंधन के हारे हुए 21 उम्मीदवार
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें