बड़ी खबर राजस्थान राज्य

लव जिहाद पर गहलोत ने बीजेपी पर निशाना साधा, कहा ‘विवाह व्यक्तिगत स्वतंत्रता का मामला’

जयपुर। लव जिहाद को लेकर जहां बीजेपी शासित राज्य कानून लाने की तैयारी कर रहे हैं वहीँ राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने इस मामले में बीजेपी को कटघरे में खड़ा किया है। गहलोत ने कहा कि विवाह व्यक्तिगत स्वतंत्रता का मामला है।

गहलोत ने ट्वीट कर कहा कि लव जिहाद भाजपा द्वारा राष्ट्र को विभाजित करने और सांप्रदायिक सद्भाव को बिगाड़ने के लिए निर्मित एक शब्द है। विवाह व्यक्तिगत स्वतंत्रता का मामला है, इस पर अंकुश लगाने के लिए एक कानून लाना पूरी तरह से असंवैधानिक है और यह कानून की किसी भी अदालत में खड़ा नहीं होगा। लव में जिहाद का कोई स्थान नहीं है।

अशोक गहलोत ने बीजेपी को आड़े हाथो लेते हुए कहा कि वे राष्ट्र में एक ऐसा वातावरण बना रहे हैं, जहां सहमति व्यक्त करने वाले राज्य की शक्ति की दया पर होंगे। विवाह एक व्यक्तिगत निर्णय है और वे उस पर अंकुश लगा रहे हैं, जो व्यक्तिगत स्वतंत्रता को छीनने जैसा है।

लव जिहाद पर बीजेपी शासित राज्यों द्वारा कानून लाये जाने के मुद्दे पर गहलोत ने कहा कि यह सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने, ईंधन सामाजिक संघर्ष को बाधित करने और राज्य जैसे संवैधानिक प्रावधानों की अवहेलना करने के लिए एक समझौता है, जो किसी भी आधार पर नागरिकों के साथ भेदभाव नहीं करता है।

ये भी पढ़ें:  पासवान की सीट पर राज्य सभा जायेंगे सुशील मोदी

गौरतलब है कि मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश, हरियाणा, कर्नाटक सहित कई बीजेपी शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने लव जिहाद के खिलाफ कानून लाने का एलान किया है। इन राज्यों में लव जिहाद के खिलाफ कानून बनाये जाने के लिए ड्राफ्ट तैयार किया जा रहा है। इस कानून में दूसरे धर्म की लड़की से शादी करने वाले के खिलाफ केस चलाने और सजा का प्रावधान होगा।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें