देश बड़ी खबर

अनिल अंबानी की मुसीबतें बढ़ीं, 21 दिनों में चीन की बैंको के देने पड़ेंगे 5500 करोड़

नई दिल्ली। भारत चीन के बीच रिश्तो में पड़ती दरार के बीच भारतीय कारोबारी और रिलायंस समूह के चेयरमैन अनिल अंबानी की मुश्किलें बढ़ गई हैं और उन्हें मात्र 21 दिनों में चीन की बैंको के 5500 करोड़ रुपये वापस करने होंगे।

अनिल अंबानी की मुश्किलें उस समय बढ़ीं जब ब्रिटेन की एक अदालत ने रिलायंस समूह के चेयरमैन अनिल अंबानी को 21 दिन के भीतर 71.7 करोड़ डॉलर यानी 5,446 करोड़ का भुगतान करने का फरमान सुनाया।

अनिल अंबानी को यह पैसा चीन के तीन बैंको इंडस्ट्रियल एंड कमर्शियल बैंक ऑफ चाइना (आईसीबीसी) की मुंबई शाखा, चाइना डेवलपमेंट बैंक और एक्सपोर्ट-इंपोर्ट बैंक ऑफ चाइना को जमा कराना है।

इन बैंकों ने लंदन की अदालत में दावा किया था कि अनिल अंबानी की निजी गारंटी की शर्त पर रिलायंस कम्युनिकेशंस (आरकॉम) को 2012 में 92.52 करोड़ डॉलर (करीब 65 हजार करोड़ रुपये) का कर्ज दिया था। तब अनिल अंबानी ने इस लोन की पर्सनल गारंटी लेने की बात कही थी लेकिन फरवरी 2017 के बाद कंपनी लोन चुकाने में डिफॉल्ट हो गई।

ये भी पढ़ें:  देशभर में आज से शुरू होगा कोरोना वैक्सीनेशन अभियान

इस मामले में पहले भी कोर्ट अनिल अंबानी को समय दे चूका है। फरवरी महीने में लंदन की अदालत ने इन बैंकों के समर्थन में सशर्त आदेश जारी करते हुए कहा था कि अनिल अंबानी से 06 सप्ताह के अंदर 10 करोड़ डॉलर की राशि जमा करने को कहा था।

वहीँ अब इस मामले में इंग्लैंड और वेल्स के हाईकोर्ट के जस्टिस निजेल टियरे ने कहा है कि अनिल अंबानी जिस व्यक्तिगत गारंटी को विवादित मानते हैं, उसके लिए उनकी जबावदेही है। वे इस मामले से खुद को अलग नहीं कर सकते और उन्हें हर हाल में बैंकों को गारंटी के रूप में 71,69,17,681.51 डॉलर यानि कि 5,446 करोड़ रुपये चुकाने होंगे।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें