बिहार-झारखंड राज्य

बिहार: जनता ने नीतीश के मंत्री को लौटाया वापस, पूछा “5 साल क्या काम किया”

पटना ब्यूरो। बिहार में विधानसभा चुनाव के लिए चल रहे राजनैतिक दलों के प्रचार के दौरान कई जगह सरकार के खिलाफ मतदाताओं की नाराज़गी उभर कर सामने आई है। कई गांव में सत्तारूढ़ बीजेपी और जेडीयू के विधायको जनता से फजीहत झेलनी पड़ी है।

इसी क्रम में चुनाव के लिए जनसंपर्क करने निकले नीतीश सरकार के मंत्री और दो बार के विधायक महेश्वर हजारी को इलाके के लोगों ने एंट्री नहीं करने दिया और उन्हें रास्ते में ही रोक लिया।

इतना ही नहीं स्थानीय लोगों ने महेश्वर हजारी के खिलाफ जमकर नारेबाजी की और अपशब्द भी कहे। यह घटना उस समय हुई जब नीतीश सरकार में मंत्री महेश्वर हजारी अपने समर्थको के साथ पूर्वी चंपारण के कल्याणपुर विधानसभा क्षेत्र में जनसम्पर्क के लिए पहुंचे थे।

इस दौरान स्थानीय लोगों ने महेश्वर हजारी का काफिला रोक कर उनसे पांच साल गायब रहने और इलाके में कोई काम नहीं होने को लेकर सवाल उठाये। लोगों ने मंत्री जी को घेरकर खरी खरी सुनाईं और अंततः उन्हें वापस जाने पर मजबूर कर दिया।

बता दें कि बिहार में तीन चरण में चुनाव हो रहे हैं। राज्य में चुनाव प्रचार गति पकड़ चुका है। सभी राजनैतिक दल अपने अपने समीकरण सैट करने में जुटे हैं। चुनाव के लिए जनसभाओं और जनसंपर्क का काम भी तेजी से चल रहा है।

ये भी पढ़ें:  राजस्थान के कई जिलों में रात का कर्फ्यू लागू, दिल्ली में लगातार तीसरे दिन 100 से अधिक मौतें

 

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें