उत्तर प्रदेश राज्य

स्कूल से लेकर उच्च शिक्षा तक में बदलाव, ABVP ने किया स्वागत

अमेठी(राम मिश्रा)। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति के लागू करने के फैसले का दिल से स्वागत किया है। परिषद की ओर से कहा गया है कि यह नीति आत्मनिर्भर भारत के निर्माण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगी।

विद्यार्थी परिषद का मानना है कि भारत के सम्मानित नागरिक शिक्षा के क्षेत्र में प्राथमिक से लेकर उच्च स्तर शिक्षा तक बदलाव का इंतजार कर रहे थे। राष्ट्र ने शिक्षा को ज्ञान आधारित, रोजगारोन्मुखी, प्रौद्योगिकी-उन्मुख बनाने के लिए सुधार किए हैं और लंबे समय तक सर्वांगीण विकास पर ध्यान केंद्रित किया है। नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति आम भारतीय की आकांक्षाओं के अनुरूप होगी।

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य राहुल कौशल ‘विद्यार्थी’ ने 34 वर्षों के बाद नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति को कैबिनेट की मंजूरी मिलने पर अपनी खुशी जाहिर की।उन्होंने कहा कि हम इसे पढ़ने के लिए उत्सुक हैं। नयी शिक्षा नीति भारतीयता के अनुरूप होने के साथ ही शिक्षा जगत में वर्तमानकालिक चुनौतियों का समाधान प्रस्तुत करते हुए भारत के स्वर्णिम भविष्य की आधारभित्ति बनेगी।

इस मौके पर एबीवीपी के एसएफडी तहसील संयोजक विनय तिवारी, प्रवीण पाण्डेय, नगर सह मंत्री शैलेंद्र यादव, करुणेश रितेश तिवारी , अखिलेश,आदि कार्यकर्ता मौजूद रहे।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें