देश बड़ी खबर

पंजाब: चरणजीत सिंह चन्नी केबिनेट में 15 विधायक बने मंत्री

चंडीगढ़। पंजाब में नए मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी की केबिनेट में 15 विधायकों को मंत्री बनाया गया है। रविवार को नए मंत्रियों को राज्यपाल ने शपथ ग्रहण कराई। इनमे सुखजिंदर सिंह रंधावा व ओपी सोनी को उपमुख्यमंत्री बनाया गया है।

इसके अलावा ब्रह्म मोहिंदरा, मनप्रीत सिंह बादल, तृप्त राजिंदर सिंह बाजवा, अरुणा चौधरी, सुखबिंदर सिंह सरकारिया, राणा गुरजीत सिंह, रजिया सुल्ताना, भारत भूषण आशु, विजय इंदर सिंगला, रणदीप सिंह नाभा, राजकुमार वेरका, संगत सिंह गिलजियां, परगट सिंह, अमरिंदर सिंह राजा वडिंग और गुरकीरत सिंह कोटली को मंत्री बनाया गया है।

वहीँ कैबिनेट विस्तार से ठीक पहले मंत्री पद के बड़े दावेदार कुलजीत नागरा ने अपनी दावेदारी छोड़ दी। उन्होंने कहा, “मैंने पहले ही बोल दिया था कि मैं मोदी सरकार के तीन काले कानूनों के खिलाफ इस्तीफा दे चुका हूं और मैंने स्पष्ट कर दिया था कि मैं राज्य मंत्रिमंडल में शामिल नहीं होऊंगा।”

पंजाब प्रदेश कांग्रेस के प्रभारी हरीश रावत ने पंजाब में नए केबिनेट में शामिल सभी मंत्रियों मैं नए मंत्रियों को बधाई दी है। उन्होंने कहा कि पंजाब के लोगों और मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी को नई शुरुआत के लिए बहुत बधाई देता हूं। जो लोग मंत्रिमंडल में स्थान नहीं पा पाए हैं उनको पार्टी और सरकार की व्यवस्था में ज़िम्मेदारियां सौंपी जाएंगी। किसी को छोड़ा नहीं गया है।

ये भी पढ़ें:  अगले महीने नई पार्टी बनाएंगे कैप्टेन अमरिंदर सिंह

गौरतलब है कि पंजाब में पूर्व तत्कालीन मुख्यमंत्री कैप्टेन अमरिंदर सिंह और कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू के बीच कई महीनो से चली आ रही रार के बाद पार्टी हाईकमान ने कैप्टेन अमरिंदर सिंह को मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने के लिए कहा था। कैप्टेन अमरिंदर सिंह के इस्तीफे के बाद चरणजीत सिंह चन्नी को पंजाब का नया मुख्यमंत्री चुना गया।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें