देश बड़ी खबर

महाराष्ट्र: सरकार पर सस्पेंस बरकरार, राउत बोले ‘संविधान बीजेपी की जागीर नहीं’

मुंबई। महाराष्ट्र में नई सरकार को लेकर सस्पेंस और गहराता जा रहा है। महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के परिणाम आने के 13 दिन बाद भी नई सरकार के गठन को लेकर अभी तक तस्वीर साफ़ नहीं हुई है।

इस बीच शिवसेना सांसद संजय राउत ने बीजेपी को चुनौती देते हुए कहा है कि यदि बीजेपी के पास बहुमत है तो वह अकेले सरकार बना ले। संजय राउत ने यह भी कहा कि संविधान बीजेपी की जागीर नहीं है।

राउत ने कहा कि अगर भाजपा के पास नंबर हैं तो वह सरकार बनाए। अगर आपके पास नंबर नहीं हैं तो इसे स्वीकार कीजिए। संविधान इस देश के नागरिकों के लिए हैं, उनकी (भाजपा) निजी जागीर नहीं है। हमें संविधान के बारे में अच्छी तरह से पता है। महाराष्ट्र का सीएम हम बनाएंगे।

इससे पहले आज भाजपा प्रतिनिधिमंडल ने राज्यपाल से मुलाकात की। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक बीजेपी को राज्यपाल के यहाँ से खाली हाथ वापस आना पड़ा हैं।

मुलाकात के बाद भाजपा प्रदेश अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने कहा कि जनता ने भाजपा-शिवसेना ‘महायुति’ को बहुमत दिया है। सरकार बनाने में देरी हो रही है, अब तक सरकार बन जानी चाहिए थी। हम राज्य में कानूनी विकल्पों और राजनीतिक स्थिति पर चर्चा करने के लिए राज्यपाल से मिले। हम आलाकमान से चर्चा कर आगे की रणनीति तय करेंगे।

वहीँ सूत्रों के मुताबिक बीजेपी ने शिवसेना को मनाने की जिम्मेदार केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी को सौपी है। सूत्रों की माने तो नितिन गडकरी को भी शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने दो टूंक शब्दों में कहा है कि वह मुख्यमंत्री पद को लेकर कोई समझौता नहीं करेगी। सूत्रों की माने तो उद्धव ठाकरे ने कहा कि यदि बीजेपी चाहे तो वह दो डिप्टी सीएम बना सकती है।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें